Breaking News
शिवराज कैबिनेट की अहम बैठक कल, इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर | मौसम विभाग का अलर्ट, मप्र के इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश | VIDEO : बिल्डिंग पर चढ़ आत्महत्या की धमकी देने लगा आरोपी, 4 घंटे चला हंगामा, पुलिस के हाथ पांव फूले | भाजपा नेता की गुंडागर्दी, चौकी प्रभारी को सरेआम पीटा, मामला दर्ज | दुष्कर्म के बाद 5 साल की मासूम की हत्या, घर के ही सेप्टिक टैंक में फेंकी लाश | ई-टेंडर घोटाला : जांच के लिए CFSL भेजी जाएगी हार्ड डिस्क | 21 अगस्त को भोपाल मे होने वाली 'अटल जी' की श्रद्धांजलि सभा में कांग्रेस भी होगी शामिल | 23 हजार ग्राम पंचायत और सभी शहरों में होंगी अटलजी की श्रद्धाजलि सभाएं | चुनाव से पहले यात्राओं का दौर, दिग्विजय के बाद जयवर्धन ने शुरू की पदयात्रा | नायब तहसीलदार का छलका दर्द, "संवर्ण हूँ इसलिए भुगत रहा सजा" |

सिंधी समाज की बहुप्रतीक्षित मांग पूरी, 18 मार्च को CM बांटेंगे माधवनगर के विस्थापितों को पट्टे

भोपाल / कटनी। वंदना तिवारी|  माधवनगर के विस्थापितों के लिए आज का दिन बड़ी खुशखबरी लेकर आया। प्रदेश विधानसभा में आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा कर दी है कि आगामी 18 मार्च को कटनी माधवनगर निवासियों को जमीन के पट्टे आबंटित कर दिए जाएंगे। सिंधी समाज के लोगों की सबसे बड़ी मांग प्रदेश शासन के राज्यमंत्री संजय सत्येंद्र पाठक के प्रयासों से पूरी हो रही है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए राजस्व मंत्री को निर्देशित कर दिया है कि पट्टों की प्रक्रिया का काम एक सप्ताह के भीतर पूरा कर लिया जाए। 

उल्लेखनीय है कि सिंधी समाज के लोग लंबे समय से माधवनगर स्थित जमीनों का मालिकाना हक ( पट्टा ) मांगते आये हैं। इसके लिए लंबा संघर्ष चला। राज्यमंत्री संजय पाठक इसके लिए शासन स्तर पर लगातार प्रयास कर रहे थे। सिंधी समाज के वरिष्ठ लोगों और व्यवसायियों के प्रतिनिधि मंडल की मुलाकात उन्होंने सीएम से भी कराई। आज विधानसभा में फिर उन्होंने जोरदार ढंग से यह मामला उठाकर मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराया जिस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सदन में घोषणा की कि एक सप्ताह के भीतर माधवनगर के विस्थापितों को जमीन का मालिकाना हक ( पट्टा ) प्रदान कर दिया जाएगा। पूरा सिंधी समाज इस घोषणा से हर्षित हैं। समाज के लोगों ने अपनी सबसे अहम मांग पूरी होने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राज्यमंत्री संजय पाठक का आभार व्यक्त किया है।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...