Breaking News
पिपलिया मंडी बैंक डकैती मामले में SIMI आतंकी अबू फैजल सहित अन्य साथियों को उम्रकैद की सजा | भाजपा विधायक के बेटों पर उत्तर प्रदेश में हुई FIR दर्ज | शिवराज का तीखा हमला "दिग्विजय की हो गई मति भ्रष्ट, जब देखो हिंदू आतंकवाद" | विकल्प मिलते ही खाली करुंगी बंगला : उमा भारती | International Yoga Day : सजायाफ्ता कैदियों ने भी किया योग, जमकर लगाए ठहाके | मोदी के कार्यक्रम में शामिल होने गुलाब का फूल देकर लोगों को निमंत्रण दे रही भाजपा | नेता प्रतिपक्ष ने पीएम को लिखा पत्र, ई-टेंडरिंग घोटाले की हो निष्पक्ष जांच | मलेशिया में फंसा एमपी का युवक, परिवार ने विदेश मंत्री से लगाई मदद की गुहार | पासपोर्ट बनवाने पहुंचे दंपती, अधिकारी ने दी धर्म बदलने की नसीहत, ट्रांसफर | सुषमा के संसदीय क्षेत्र में किसान पुत्र ने दी आत्महत्या की धमकी...1 घंटे में मिला फसल का पैसा |

VIDEO: रोजगार सहायकों पर भड़के वित्तमंत्री, बोले-'हड़ताल करोगे तो हटाकर नई भर्ती कर लेंगे'

कटनी| वंदना तिवारी|चुनावी साल कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है, अध्यापकों, पंचायत सचिवों को लेकर सरकार घोषणा कर चुकी है, जिसके बाद हर विभाग के कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं| इसी क्रम में  नियमितिकरण और सहायक सचिव के पद पर संविलियन की मांग को लेकर रोजगार सहायकों ने भी कामबंद हड़ताल कर दी है| वहीं वित्तमंत्री ने हड़ताली रोजगार सहायकों पर भड़क गए| उन्होंने दो टूक कहा कि पहले हड़ताल समाप्त फिर आपकी सुनवाई होगी| साथ ही उन्होंने हड़ताली कर्मचारियों नसीहत भी दे डाली | 

कटनी जिले के बहोरीबंद ब्लॉक में पहुंचे वित्तमंत्री जयंत मलैया से हड़ताल कर रहे रोजगार सहायकों ने मुलाकात की और अपनी मांग रखी| इस दौरान वित्तमंत्री भड़क गए और उन्होंने दो टूक कहा पहले हड़ताल समाप्त करो| वित्त मंत्री ने हड़ताली रोज़गार सहायकों से कहा हमने आपके 2000 बढ़ाकर गलती की है और अब आप हड़ताल कर रहे हो तो हम आपको हटाकर नई भर्ती कर लेंगे| 

दरअसल, मांग पूरी नहीं होने से नाराज रोजगार सहायकों ने कामबंद हड़ताल कर दी है जिससे ग्राम पंचायत संबंधित काम ठप पड़ गए हैं| वहीं राजधानी भोपाल सहित विभिन्न जिलों में हडताल के तीसरे दिन दौरान रोजगार सहायको ने पकौडे तलकर जनपद पंचायत के कर्मचारियों को खिलाए।  प्रदेश प्रवक्ता शैलेन्द्र चौकसे का कहना है दूसरो को रोजगार उपलब्ध कराने वाले आज पकौडे तलने को  मजबूर हुए है। चौकसे ने सरकार पर आरोप लगाया है | उन्होंने पकौडे तलने वाला अपना जीवन यापन आसानी से कर सकता है लेकिन रोजगार सहयको को नौकरी का कुछ अता पता नही है। अस्थाई तौर पर कार्य कर रहे 23 हजार रोजगार सहायकों के सामने नौकरी जाने का खतर हमेशा लटका रहता है वही कम वेतन में वे फील्ड पर दोगुनी मेहनत करते है बावजूद इसके सरकार उन्हे नियमित नही कर रही है। प्रदेश प्रवक्ता शैलैन्द्र चौकसे ने चेतावनी दी है कि जब तक सरकार उनकी मांगे नही मान लेती तब तक उनकी हडताल चलती रहेगी। हडताल रेगुलर होने या प्रदेश में नई सरकार बनने के  बाद ही समाप्त होगी। चौकसे ने सभी रोजगार सहायकों से धरना स्थल पर ज्यादा संख्या में उपस्थित होने की अपील की है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...