Breaking News
अविश्वास प्रस्ताव के समय लोकसभा में कमलनाथ की गैरमौजूदगी के मायने | VIDEO : ये कैसा स्वच्छ भारत...शर्मसार एमपी | कविता रैना हत्याकांड : हाईकोर्ट ने सरकार को दिया सीबीआई जांच कराने का हक | पूर्व सांसद की पत्नी के बैग से मिले जिंदा कारतूस, मचा हड़कंप | शिवराज जी, मेरे देश द्रोही होने के प्रमाण हो तो मुझे सजा दिलवाएं, नही तो माफी मांगे : दिग्विजय | बड़ी खबर : आज से ट्रांसपोर्टर्स की देशव्यापी हड़ताल, थमे 90 लाख ट्रकों के पहिए | भोपाल के फिल्टर प्लांट से गैस लीक, मची अफरा-तफरी, सांस लेने में लोगों को हो रही दिक्कत | VIDEO: यशोधरा बोलीं..'मेहनत हमारी, वोट हाथी को' | सत्ता मद में चूर भाजपा सिंधिया के खिलाफ कर रही झूठा प्रचार : कांग्रेस विधायक | शिवराज की नजर में ..दिग्विजय 'देशद्रोही' की श्रेणी में |

भोपाल के बाद खंडवा में भी पहुंचा ग्लैंडर्स रोग

खंडवा| संक्रमण से फैलने वाला घातक रोग ग्लैंडर्स, भोपाल के बाद अब खंडवा में भी फैल गया है | खंडवा की मुन्दी में दो घोड़ों में इस बीमारी के लक्षण पाए गए। इसके बाद इन दोनों घोड़ो को मारकर दफना दिया गया। ग्लैंडर्स घोड़ों के माध्यम से फैलने वाली एक अति संक्रामक बीमारी है जो अन्य पालतू पशुओं जैसे खच्चर गधे कुत्ते बिल्ली और बकरी मे फैल सकती है ।इस बीमारी में शरीर में न ठीक होने वाले घाव समेत कई लक्षण होते हैं जो कई बार मौत का कारण भी बन जाते हैं। बीमारी से ग्रसित जानवर को जहर देकर मार दिया जाता है और उसके बाद में 6 से 7 फीट गहरे गड्ढे में दफनाया जाता है। 2006 में ग्लैंडर्स का पहला मामला सामने आया था और मध्य प्रदेश में सबसे पहले भोपाल उसके बाद  महूं और अब खंडवा में यह तीसरा मामला सामने निकल कर आया है

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...