भोपाल के बाद खंडवा में भी पहुंचा ग्लैंडर्स रोग

खंडवा| संक्रमण से फैलने वाला घातक रोग ग्लैंडर्स, भोपाल के बाद अब खंडवा में भी फैल गया है | खंडवा की मुन्दी में दो घोड़ों में इस बीमारी के लक्षण पाए गए। इसके बाद इन दोनों घोड़ो को मारकर दफना दिया गया। ग्लैंडर्स घोड़ों के माध्यम से फैलने वाली एक अति संक्रामक बीमारी है जो अन्य पालतू पशुओं जैसे खच्चर गधे कुत्ते बिल्ली और बकरी मे फैल सकती है ।इस बीमारी में शरीर में न ठीक होने वाले घाव समेत कई लक्षण होते हैं जो कई बार मौत का कारण भी बन जाते हैं। बीमारी से ग्रसित जानवर को जहर देकर मार दिया जाता है और उसके बाद में 6 से 7 फीट गहरे गड्ढे में दफनाया जाता है। 2006 में ग्लैंडर्स का पहला मामला सामने आया था और मध्य प्रदेश में सबसे पहले भोपाल उसके बाद  महूं और अब खंडवा में यह तीसरा मामला सामने निकल कर आया है