खेल अनुशासन सिखाता है और इससे बढता है आत्मविश्वास : एसपी रूचिवर्धन

खंडवा। सुशील विधानी।

खेल अनुशासन सिखाता है इससे आत्मविश्वास भी बढता है खेल से शरीर स्वस्थ रहता है बुराईयो  से लडने की क्षमता विकसित होती है फुटबाल खेल प्रतियोगिता मे बालिकाओ की कोई भी एक टीम जीतेगी लेकिन बधाई के पात्र वे अभिभावक है जिन्हेाने अपनी बालिकाओ को इस प्रतियोगिता मे सम्मिलित होने के लिये प्रोत्साहित किया। जो ज्ञान किताबो से नही मिलता है वह खेल के मैदान से मिलता है । बालिकाए बुराइयो से डरे नही वरन उसका डटकर मुकाबला करे । 

 एसपी रूचिवर्धन मिश्रा ने यह बात मूंदी के हायर सेकेण्डरी स्कूल मैदान पर राज्य स्तरीय अण्डर १७ बालिका फुटबाल प्रतियोगिता का शुभारम्भ करते हुये कही । उन्हो्ने होशंगाबाद एवं हरदा की अण्डर १७बालिका फुटबाल टीमो के खिलाडियो से परिचय प्राप्त  किया है और प्रतियोगिता कीशुरूआत की एसपी ने मैदान पर मौजूद खिलाडियो के अलावा मैच देखने के लिये उपस्थित बालिकाओ से हाथ मिलाकर उनका उत्‍साहवर्धन किया 

 यह आयोजन पूर्व केन्द्रीय मंत्री माधवराव सिंधिया एवं प्रदेश के पूर्व मंत्री महेन्द्र सिह कालूखेडा की स्म़ति मे मप्र0फुटबाल संघ एवं जिला फुटबाल संघ ने संयुक्त रूप से आयेाजित किया है प्रतियोगता ०६दिन सतत जारी रहेगी प्रदेश केअलग अलग जिलेा से बालिकाओ की फुटबाल टीमे यहां पहुची है इस अवसर पर अतिरिक्ते पुलिसअधीक्षक महेन्द्र  तारणेकर पूर्व विधायक ठा0 राजनारायणसिह, प्रदेश किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष नारायण पटेल नप मूंदी केअध्यक्ष संतोष राठौर रोमी नारंग  सहित खण्डवा एवं मूंदी के कई कांग्रेस नेता मौजूद थे संचालन कुंदन मालवीय ने किया।