लोकायुक्त की कार्रवाई, रिश्वत लेते पटवारी रंगेहाथों गिरफ्तार

रीवा| मध्य प्रदेश के रीवा जिले में लोकायुक्त ने पटवारी को रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ा है| शिकायकर्ता ने लोकायुक्त से पटवारी के खिलाफ जमीन बंटवारे और कागजी कार्यवाही करने के नाम पर रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद रीवा लोकायुक्त की टीम ने गुरूवार को क्षेत्र के अमवा में घूस लेने वाले पटवारी को रंगे हाथों दबोच लिया।

जानकारी के मुताबिक रीवा के अमवा निवासी धर्मपाल सिंह ने बीते दिनों लोकायुक्त रीवा से पटवारी के खिलाफ रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसे संज्ञान में लेते हुए लोकायुक्त की टीम ने आज पटवारी के किराए के मकान पर दबिश देकर रिश्वत के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया है। शिकायतकर्ता के मुताबिक एक साल पूर्व अपने पैतृक संपत्ति के बंटवारे के लिए शिकायतकर्ता ने पटवारी को आवेदन दिया था। जिस पर पटवारी लाल बहादुर कोल ने कार्रवाई के लिए रुपए की मांग की थी।

 शिकायतकर्ता का कहना है कि पटवारी ने बंटवारे और कम्प्यूटर में नामांकन दर्ज करने संबंधि कार्यों को पूरा करने के बदले में पैसे की मांग की थी। जिसमें से 7 हजार रुपए पटवारी को दिया जा चुका था। इसके साथ ही आवेदक ने मामले की शिकायत लोकायुक्त से की थी। जिसे गंभीरता से लेते हुए टीम ने दबिश देते हुए तीन हजार की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया| पटवारी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है| 

"To get the latest news update download the app"