मध्य प्रदेश के किसानों के लिए कृषि मंत्री ने किया बड़ा ऐलान

भोपाल।  मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री सचिन यादव ने कहा कि राज्य में यूरिया की पर्याप्त व्यवस्था है और आने वाले दस दिनों में एक से दस दिसंबर तक दो लाख मीट्रिक टन यूरिया प्रदेश के विभिन्न जिलों में पहुंचाया जाएगा। इसको लेकर किसानों को चिंतित होने की जरुरत नहीं है।

यादव ने यहां मीडिया से चर्चा में कहा कि इस वर्ष अक्टूबर नवंबर में पिछले वर्ष की तुलना में एक लाख 20 हजार मीट्रिक टन यूरिया अधिक विक्रय करने का काम किया गया है और एक से दस दिसंबर तक विभिन्न जिलों में दो लाख मीट्रिक टन यूरिया पहुंचाने का काम किया जाएगा। राज्य में यूरिया की पर्याप्त व्यवस्था है। किसानों को चिंतित होने की जरुरत नहीं है, उन्हें मांग के अनुसार यूरिया मिलेगा। कृषि मंत्री ने केन्द्र के सत्तारुढ़ दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर मध्यप्रदेश के साथ सौतेला व्यवहार किए जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि चाहे यूरिया का मामला हो, अतिवृष्टि से नुकसान, या फिर अन्य योजनाओं को लेकर मिलने वाली राशि का मामला हो, सभी मामलों में केन्द्र द्वारा सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष अत्यधिक वर्षा के मद्देनजर रबी की फसल की बोनी के बढ़े रकबे की आकांक्षा के तहत केन्द्र से 18 लाख मीट्रिक टन यूरिया की मांग की गयी थी, लेकिन केन्द्र ने 15 लाख 40 हजार मीट्रिक टन यूरिया प्रदाय करने की मंजूरी दी, जिससे प्रदेश में 2 लाख 60 हजार मीट्रिक टन यूरिया की कमी है। उन्होंने कहा कि यूरिया के वितरण को लेकर सिस्टम में बदलाव किया गया है। इसके तहत 80 फीसदी यूरिया सोसायटी के माध्यम से किसानों तक पहुंचाया जाएगा। अब केवल 20 फीसदी यूरिया ही निजी दुकानों को दिया जाएगा।

"To get the latest news update download the app"