MP: बीएसपी नेता की फिसली जुबान, रानियों पर दिया विवादित बयान

राजगढ़। मनीष सोनी। 

राजगढ़ जिले में भी इस बार बहुजन समाज पार्टी ने लोकसभा चुनाव में निशा त्रिपाठी को अपना उम्मीदवार बनाया है। बाबा अंबेडकर की जयंती पर रविवार से बसपा ने जिले में चुनावी बिगुल बजाया। चुनावी बिगुल बजाने के साथ ही बसपा नेता ने रानियों को लेकर विवादित बयान दे दिया ।

बसपा के भोपाल जोन के प्रमुख रामकृष्ण अहिरवार  ने रविवार को राजगढ़ जिले के नरसिंहगढ़ में बसपा प्रत्याशी के चुनाव अभियान की शुरूआत करते हुए राजगढ़ संसदीय क्षेत्र के तीन राजपरिवारों पर हमला बोल दिया। बसपा की सभा में कहा, "बाबा साहब की सोच थी देश में राजतंत्र को खत्म कर लोकतंत्र लाया जाए, लेकिन देखने में ये आया है राजगढ़ जो लोकसभा है, इस लोकसभा में बाबा साहब अंबेडकर का सपना अधूरा है, उस सपने को 19 के चुनाव में पूरा किया जाएगा, क्योंकि राजगढ़ लोकसभा की जो 8 विधानसभा है, उनमें 6 राजा जीतकर जाते हैं, जबकि बाबा साहब अंबेडकर ने 1950 में इस देश की तमाम रानियों की नसबंदी कर दी थी और कहा था कोई राजा रानी के पेट से पैदा नहीं होगा। यदि कोई राजा बनेगा तो पेटी से पैदा होगा। कांग्रेस की सरकार रही है या चाहे भाजपा की सरकार, इन्होंने लोकतंत्र को खत्म करने का प्रयास किया है और राजतंत्र को बनाए रखने के लिए यहां के भोले भाले लोगों को गुमराह किया है। इस कारण राजगढ़ लोकसभा का विकास नहीं हो सका। राजगढ़ लोकसभा में 72 वर्ष से राजतंत्र चल रहा है राजाओं का राज आज भी जारी है।'

उन्होंने कहा कि राजगढ़ लोकसभा में दिग्विजय सिंह, लक्ष्मण सिंह , भानु प्रताप सिंह , प्रियव्रत  सिंह, राजवर्धन सिंह, जयवर्धन सिंह ये तीन राजघरानों से जुड़े होकर विधायक एवं सांसद बने हैं। इस संसदीय क्षेत्र में कांग्रेस एवं भाजपा दोनों ही राजघराने पर आश्रित है और इसी को लेकर बसपा नेता ने रानियों पर विवादित बयान दे दिया


"To get the latest news update download the app"