लोकसभा चुनाव से पहले CM कमलनाथ ने किया ये बड़ा ऐलान, मोदी-शिवराज पर भी बोला हमला

खंडवा।

लोकसभा चुनाव को लेकर देशभर में आचार संहिता लगी हुई है, लेकिन राजनैतिक दल नियमों को ताक पर रख वोटरों को रिझाने के लिए एक के बाद एक बड़े ऐलान किया जा रहे है। अब मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ब़ड़ा ऐलान किया है। नाथ ने खंडवा की हरसूद विधानसभा को गोद लेने की बात कही है। इससे पहले शनिवार को भोपाल प्रत्याशी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने राम मंदिर बनाने के लिए जमीन देने का ऐलान किया था।यह आचार संहिता का उल्लंघन है, हालांकि अभी तक दोनों मामलों में किसी भी दल ने आपत्ति दर्ज नही करवाई है। 

दरअसल, लोकसभा चुनाव से पहले  भोपाल के बाद कांग्रेस ने खंडवा में अब बड़ा दांव खेला है। यहां दौरा करने पहुंचे मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा ऐलान किया। नाथ ने कहा कि वे खंडवा की हरसूद विधानसभा गोद लेंगें। साथ ही कहा कि हमें हरसूद में लगा कलंक हर हाल में मिटाना है।चुनाव से पहले नाथ ने यह ऐलान कर खंडवा वोटर्स को साधने की कोशिश की है। कांग्रेस ने यहां से अरुण यादव को प्रत्याशी बनाया है वही बीजेपी ने एक बार फिर नंदकुमार सिंह पर भरोसा जताया है। नाथ ने यह ऐलान आचार संहिता में किया है, इसका पूरा विरोध होने की संभावना है , हालांकि अभी तक किसी भी राजनैतिक दल द्वारा इसकी शिकायत नही की गई है।

शिवराज-मोदी पर बोला हमला

वही पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए नाथ ने कहा कि मोदी जी से पहले ही नेहरू जी ने भारतीय सेना का गठन कर दिया था। अच्छे दिन तो नहीं आए अब आखरी दिन आने वाले हैं। वही शिवराज को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि किसान का बेटा है और किसानों को ही गोली मारी।

इसके पहले दिग्विजय ने किया था ऐलान

 इससे पहले दिग्विजय ने शनिवार को भोपाल के हमीदिया रोड स्थित राम मंदिर में पूजा-अर्चना कर राम मंदिर निर्माण के लिए जमीन देने का ऐलान किया था। उन्होने कहा था कि यह जमीन कांग्रेस शासनकाल में दी गई थी। ट्रस्ट ने यहां राम मंदिर बनाया। मंदिर के सामने जिला कांग्रेस कमेटी की जमीन है। रामनवमी के अवसर पर वह जमीन भी कांग्रेस पार्टी की ओर से हम आपके ट्रस्ट को सौंपना चाहते हैं।


"To get the latest news update download the app"