ई टेंडर घोटाला : EOW के निशाने पर शिवराज सरकार के कई अफसर

भोपाल।

कंपनी संचालकों,  नेताओं और अफसरों के बाद अब ई-टेंडरिंग घोटाले की जांच कर रही ईओडब्ल्यू ने शिवराज सरकार के आईएएस और एसएएस अफसरों पर शिकंजा कसना शुरु कर दिया है। खबर है कि EOW को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सचिवालय में पदस्थ अफसरों के साथ निजी स्टॉफ के घोटाले में शामिल होने के सबूत भी मिले हैं। इसी के साथ पर  EOW  ने अफसरों पर नजर रखना शुरु कर दिया है।हालांकि कमलनाथ सरकार इस घोटाले में शामिल शिवराज सरकार के पांच अफसरों को पहले ही हटा चुकी है। अब नई टीम के साथ ईओडब्ल्यू तेजी से जांच कर रहा है। ऐसे मे कई अफसरों पर गाज गिर सकती है।

 दरअसल,अभी तक EOW ने ई टेंडर घोटाले में शामिल सात कंपनियों के संचालकों, अज्ञात नेताओं और अफसरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी.जांच के बाद कंपनियों के कई जिम्मेदारों को गिरफ्तार भी किया गया। लेकिन अब EOW  इस घोटाले में छह आईएएस और राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसरों से भी पूछताछ शुरुआत होने वाली है।इस संंबंधं में सचिवालय में पदस्थ अफसरों के साथ निजी स्टॉफ के घोटाले में शामिल होने के सबूत भी मिले हैं। 

बताया जा रहा है कि टेंडर प्रक्रिया के समय जो भी अफसर पदस्थ रहे होंगे, सभी से पूछताछ की जाएगी।इनके साथ जांच एजेंसी को पूर्व अफसरों की कॉल डिटेल से पता चला है कि इन अफसरों की पकड़े गए आरोपियों से फोन पर बातचीत हुई है, जिन अफसरों से पूछताछ की जानी है, उनमें सीएम सचिवालय में पदस्थ रहे दो प्रमुख सचिवों के नाम भी शामिल है।ऐसे में कई अफसर लपेटे में आ सकते है। वही इस जांच की खबर से अफसरों मे हड़कंप मचा हुआ है।

"To get the latest news update download the app"