तेंदूपत्ता संग्राहकों को वन मंत्री ने दी यह बड़ी सौगात

भोपाल| मध्य प्रदेश की नई सरकार अपने वचन पत्र में किये गए वादों को पूरा करने में जुटी हुई है| कर्जमाफी, बेरोजगारी भत्ता समेत कई वचनों को सरकार ने अमल की प्रक्रिया में लाया है| इस बीच प्रदेश के वन मंत्री उमंग सिंघार ने वनांचल में रहने वाले ग्रामीणों को बड़ी सौगात दी है| मंत्री सिंघार ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को प्रति बोरा मिलने वाली दर को बढ़ाने की घोषणा की है| 

वनांचल में रहने वाले तेंदूपत्ता संग्राहक परिवार मंत्री उमंग सिंघार की इस पहल से लाभान्वित होंगे| गर्मी के दिनों में जब उनके पास खेतों व घरों में कोई काम नहीं होता तब इसी तेंदूपत्ता यानी हरा सोना का संग्रहण उन्हें मेहनत एवं संग्रहण के आधार पर कुछ कमाने का अवसर देता है। जिनके लिए सरकार ने बड़ी राहत दी है| वन मंत्री उमंग सिंघार ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को प्रति बोरा मिलने वाली दर को बढ़ाने की घोषणा की है| अब तेंदूपत्ता संग्राहकों को दो हजार रुपए के बजाए ढाई  हजार रुपए प्रति बोरा की राशि मिलेगी| संग्राहकों यह राशि नकद रूप में दी जाएगी | तेंदूपत्ता संग्रहण की आगामी तिथि से यह व्यवस्था लागू होगी | 

तेंदूपत्ता संग्राहकों को उनकी मेहनत नकद दी जायेगी, इससे बड़ी राहत मिलेगी| प्रदेश के दूरदराज के इलाकों के तेंदूपत्ता संग्राहक ई-पेंमेंट होने से बहुत परेशान थे। संग्राहकों को कई बार 10-15 किलोमीटर का सफर तय कर बैंक तक पहुँचना पड़ता था। ग्रामीण इलाकों में अपेक्षाकृत छोटे बैंक हैं, जिनमें राशि कम रहती है। अक्सर अपना कामकाज छोड़ कर जब शाम तक ये संग्राहक बैंक पहुँचते थे, तो राशि खत्म हो जाने के कारण इन्हें बैरंग लौटना पड़ता था। इससे संग्राहकों में काफी निराशा और हताशा का भाव उत्पन्न हो जाता था। सरकार की इस नई व्यवस्था से तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों को बड़ी राहत मिलेगी| 

"To get the latest news update download the app"