दिग्विजय के बेटे जयवर्धन का दावा- 30 सालों बाद कांग्रेस को भोपाल से मिलेगी ऐतिहासिक जीत

भोपाल।

मध्यप्रदेश के लिए बीजेपी ने एक और लिस्ट जारी कर दी है,जिसमें तीन उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया गया है, लेकिन अब भी इंदौर, भोपाल समेत पांच सीटों पर नाम तय नही कर पाई है।खास करके भोपाल को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। भोपाल से कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह को मैदान में उतार दिया है, लेकिन भाजपा ने अभी तक यहां अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है। इसी बीच दिग्वजय सिंह के बेटे और कमलनाथ सरकार में मंत्री जयवर्धन सिंह का बड़ा बयान सामने आया है।जयवर्धन ने भोपाल से पिता की जीत की बात कही है।

दरअसल, आज मीडिया से चुनावी चर्चा के दौरान जयवर्धन सिंह ने बीजेपी पर जमकर  निशाना साधा। जयवर्धन ने कहा कि भोपाल लोकसभा सीट पर कांग्रेस के पक्ष में माहौल है। चुनाव में 28 दिन बाकी और बीजेपी अबतक अपना प्रत्याशी घोषित नही कर पा रही है । कांग्रेस का कार्यकर्ता और प्रत्याशी दिग्विजय सिंह घर-घर पहुंच रहे हैं ।वही  उन्होंने दिग्विजय की जीत का दावा करते हुए कहा कि आने वाली 23 तारिख को जब नतीजे आएंगे तब भोपाल में 30 साल बाद कांग्रेस की ऐतिहासिक जीत होगी।

बता दे कि भाजपा में अबतक भोपाल को लेकर मंथन किया जा रहा है। केन्द्रीय नरेन्द्र सिंह तोमर के मुरैना से चुनाव लड़ने के बाद बीडी शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज और उमा भारती का नाम तेजी से चर्चा में चल रहा है, लेकिन उमा भारती के चुनाव ना लड़ने और शर्मा के खजुराहो से चुनाव लड़ने के बाद  अब शिवराज का नाम आगे बढ़ाया गया है, हालांकि शिवराज केन्द्र जाने से इंकार कर चुके है, लेकिन पार्टी के फैसले को स्वीकार करने को राजी है। शनिवार को उन्होंने मीडिया से चर्चा के दौरान भी यह बात कही थी। शिवराज ने कहा था कि मैं चुनाव लड़ने का इच्छुक नहीं हूं, भोपाल सीट से मेरा नाम फाइनल नहीं है. हालांकि उन्होंने यह जरूर कहा कि पार्टी जो फैसला करेगी वह मंजूर होगा। पार्टी का फैसला ही मान्य होगा।




"To get the latest news update download the app"