दिग्विजय के समर्थन मे उतरे शंकराचार्य, बोले-BJP को नही मिला रहा कोई उम्मीदवार

भोपाल।

भोपाल से उम्मीदवार का नाम घोषित करने में बीजेपी जितनी देरी कर रही है उतनी ही सियासत तेज होती जा रही है। अब जगतगुरु शंकराचार्य का बड़ा बयान सामने आय़ा है। उन्होंने खुलकर दिग्विजय का समर्थन का ऐलान किया है।वही उन्होंने पूर्व सीएम शिवराज सिंह की नर्मदा परिक्रमा को नाटक बताया, कहा कि अवैध उत्खनन रोकने वालों को मार दिया जाता है।साथ ही पीएम मोदी के स्वच्छता अभियान पर भी सवाल खड़े किए।

सोमवार को मीडिया से चर्चा के दौरान शंकराचार्य ने कहा कि  बीजेपी ने दिग्विजय सिंह को चुनौती दी.. दिग्विजय बात के पक्के हैं। चुनौती स्वीकार कर ली औऱ अब चुनौती देने वाली पार्टी को ही भोपाल सीट पर कोई नेता नहीं मिल रहा है।आपको बता दे कि जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती और दिग्विजय सिंह के रिश्ते काफी पुराने हैं। जगतगुरु शंकराचार्य अक्सर दिग्विजय सिंह का बचाव करते रहते हैं लेकिन पहली बार है जब जगतगुरु शंकराचार्य दिग्विजय सिंह के लिए चुनाव प्रचार भी कर रहे हैं, जिसका फायदा दिग्विजय को मिलना तय है। वही दिग्विजय भी लोगों के बीच अपनी हिन्दुत्व वाली छवि चमकान में लगे हुए है। लगातार लोगों के बीच पहुंच रहे है, मंदिर मंदिर मत्था टेक रहे है। हाल ही उन्होंने भोपाल में राम मंदिर के लिए भूमि देने का ऐलान कर मंदिर कार्ड खेला है। वही कम्प्यूटर बाबा पहले ही समर्थन का ऐलान कर चुके है।ऐसे में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ना तय है। टिकट में जितनी देरी होगी कांग्रेस उतना ही अपना पक्ष मजबूत करती जाएगी।


शिवराज को लिया आड़े हाथ

वही उन्होंने पूर्व सीएम शिवराज सिंह की नर्मदा परिक्रमा को नाटक बताया, कहा कि अवैध उत्खनन रोकने वालों को मार दिया जाता है।शिवराज ने नर्मदा परिक्रमा का ढोंग किया है।परिक्रमा पैदल की जाती है हवाई यात्राएं करके नहीं। रेत का इतना अवैध उत्खनन हुआ है कि नर्मदा के किनारों पर इसके अलावा कुछ नजर नहीं आता।

मोदी पर भी बोला जमकर हमला 

इतना ही नहीं उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। मोदी के स्वच्छता अभियान का मजाक उड़ाया तो भाजपा के राम मंदिर के वादे पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि रामजन्मभूमि लोगों की आस्था का केंद्र है। लोगों की आस्था को पार्टी वोट बैंक के लिए उपयोग कर रही है। आखिर मोदी बताएं कि अयोध्या में राम मंदिर कब बनेगा। गौहत्या रूकेंगी लेकिन रूकी नहीं बल्कि बढ़ रही है।उन्होंने कहा कि नर्मदा एक तरफ दूषित हो रही है।  गंगागंगा से जितना पानी पीने के लिए चाहिए होता है उससे 15 गुना पानी नदी की सफाई के लिए जरूरी है लेकिन यहां तो लोगों को पीने का पानी ही नहीं मिल रहा है फिर गंगा की सफाई पर क्या कहा जाए।

वहीं मोदी सरकार सिर्फ विकास की बातें करती है। मुस्लिम वोटर्स को लुभाने मोदी सरकार के ट्रिपल तलाक भी शंकराचार्य ने निशाना साधा है।   शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा शौचालय से लोगों का कौन सा भला हुआ है लोग जब खुले में शौच करते थे तो उसका अलग फायदा था स्वच्छ भारत के नाम पर जो कुछ किया गया है वह केवल दिखावा है ।गांव में लोग शौचालय में भूसा भर कर रखे हुए।


"To get the latest news update download the app"