एमपी में भी इस बीमारी को लेकर अलर्ट जारी, स्वास्थ्य मंत्री ने दिए निर्देश

भोपाल। 

बिहार में फेल रहे जानलेवा 'चमकी' बुखार के भयावह हो जाने के कारण मध्यप्रदेश में भी स्वस्थ विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। मध्यप्रदेश के स्वास्थ मंत्री तुलसी सिलावट ने बिहार की घटना को हमने ऊपर से नीचे तक के अमले को जानलेवा बुखार के प्रति अलर्ट किया है। वहीं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के अनुसार इस बुखार से निपटने के लिए ऊपर से लेकर नीचे तक सभी हमले को अलर्ट कर दिया गया है। 

आपको बता दें कि बिहार में चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 100 से अधिक हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के आधार पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने संज्ञान लिया है। आयोग ने सोमवार को बिहार सरकार और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को नोटिस जारी कर इस भयावह बिमारी से  हुईं मौतों पर रिपोर्ट मांगी है।

क्या है चमकी बुखार के लक्षण?

डॉक्टरों के अनुसार चमकी बुखार से में शुगर की कमी देखी जा रही है। इस बुखार से ग्रस्त होने पर बच्चों व व्यक्ति में लगातार तेज बुखार आना, बदन में लगातार ऐंठन होना, दांत पर दांत दबाए रहना, सुस्ती चढ़ना, कमजोरी की वजह से बेहोशी आना आदि इसके प्रमुख लक्षण है। 

इससे बचने के उपाय

इस बिमारी से बचने के लिए जूठे व सड़े हुए फल न खाना, बच्चों को उन जगहों पर न जाने दें, जहां सूअर रहते हैं, खाने से पहले और बाद में साबुन से हाथ जरूर धोना, पीने का पानी स्वच्छ रखें, बच्चों के नाखून न बढ़ने दें, गंदगीभरे इलाकों में न जाएं, बच्चों को सिर्फ हेल्दी खाना ही खिलाएं, रात के खाने के बाद हल्का- फुल्का मीठा खाना चाहिए। 

"To get the latest news update download the app"