बैतूल की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान, देर रात युवक ट्रेन से कटा

भोपाल। बैतूल निवासी एक छात्र ने भोपाल स्थित अपने किराये के कमरे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। सुसाइड नोट में लिखा है कि वह अपनी जिंदगी अपने हिसाब से जीना चाहता है। वहीं देर रात पटरी पार कर रहे युवक की ट्रेन कटिंग में मौत हो गई। ऐशबाग पुलिस के अनुसार आकाश पिता सुखराम (18)ओल्ड सुभाष नगर में किराये से रहने करीब तीन माह पहले ही बैतूल से आया था। वह एक निजी कॉलेल में बीसीए प्रथम वषज़् का छात्र था। आकाश के पिता कोल माइंस में नौकरी करते हैं। कल दोपहर बाद आकाश अपने कमरे से बाहर नहीं निकला।शाम को मकान मालिक ने आवाज लगाई, लेकिन कोई हलचल नहीं हुई। मकान मालिक ने कुछ घंटे और इंतजार किया, फिर दस बजे पुलिस को सूचना दी। पुलिस पहुंची तो दरवाजा तोडकऱ अंदर देखा तो आकाश फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। विवेचना अधिकारी एएआई शेषराम सहारे ने बताया कि उसके पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। सुसाइड नोट में लिखा है कि वह अपनी जिंंदनी अपने हिसात से जीना चाहता है, इसलिए वह आत्महत्या कर रहा है। देर रात परिजनों को सूचना दी गई, परिजन भोपाल पहुंच गए हैं। परिजनों ने पुलिस को बताया कि वह दो भाईयों में छोटा था। इधर बरखेड़ी, जहांगीराबाद निवासी 24 अभिषेक सिद्दी पिता राजू सिद्दी प्राइवेट काम करता था। बीती रात करीब साढ़े ग्यारह बजे वह बरखेड़ी के पास से रेलवे पटरी पार कर घर जा रहा था, तभी ट्रेन की चपेट में आ गया। पुलिस दोनों मामलों में मगज़् कायम कर जांच शुरू कर दी है।

"To get the latest news update download the app"