अब कमलनाथ के मंत्री का छलका दर्द, बोले- CM से करुंगा शिकायत

भोपाल।

15 साल का वनवास काट सत्ता में आने के बावजूद कांग्रेस में खींचतान जारी है। अधिकारियों, विधायकों और मंत्रियों की आपस में पटरी नही बैठ रही है। आए दिन कोई न कोई विवाद खड़ा हो रहा है औऱ बयानबाजी हो रही है। निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह शेरा के बाद अब  आदिम जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम का दर्द छलका है।उन्होंने अधिकारियों पर सुनवाई ना करने का आरोप लगाया है। साथ ही अब इसकी शिकायत सीधे मुख्यमंत्री कमलनाथ से करने की बात कही है।

दरअसल, प्रदेशभर में बारिश का दौर जारी है, जिसके चलते दीवारों में सीलन आ गई है और घरों में जगह जगह से पानी टपक रहा है। यह हाल आम आदमी नही बल्कि मंत्री-विधायकों के सरकारी घरों  का भी है।निर्दलीय विधायक शेरा के बाद अब मंत्री मरकाम के श्यामला हिल्स पर बने सरकारी बंगले B-8 से भी इन दिनों हर जगह से पानी टपक रहा है,  जिसकी वजह से वे परेशान हो उठे है, उनकी बेबसी ये है कि वो मेंटेनेंस के लिए पीडब्‍ल्‍यूडी विभाग से लेकर खुद अपने विभाग के अफसरों को निर्देश दे चुके हैं, लेकिन उनकी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है। उनका आरोप है कि सरकारी आवास पर रखा पुराना सामान बदबू मार रहा है, तो छत से टपकता पानी फाइलों को बर्बाद कर रहा है, इन सबके चक्कर में वे अपना काम नही कर पा रहे है,  आदिवासी मंत्री होने के नाते उनकी सुनवाई नहीं हो रही है और अब इस पूरे मामले की शिकायत वो सीधे मुख्यमंत्री कमलनाथ से करेंगे।

 बता दे कि मंत्री ओमकार वही है जिनसे दो दिन पहले जब मीडिया ने उमंग सिंघार के मंत्रिमंडल से बाहर होने पर सवाल किया गया था तो उन्होंने कहा कि मुझे क्या लेना देना, मैं अपनी दुकान चला रहा हूं और मेरी दुकान बढ़िया चले इसका मैं प्रयास कर रहा हूं। मैं कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद और राहुल गांधी  जिंदाबाद के अलावा कुछ नहीं जानता हूं।

निर्दलीय विधायक भी जाहिर कर चुके है नाराजगी

इधर, कांग्रेस सरकार को समर्थन देने वाले बुरहानपुर से निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह ठाकुर भी इस परेशानी से जूझ रहे है।शेरा ने अपने बंगले की खस्ताहालत पर पीडब्ल्यूडी के अफसरों पर नाराजगी जताते हुए कहा कि दो माह से मेंटेनेंस के लिए कह रहा हूं, लेकिन आज तक किसी ने सुध नहीं ली।शेरा के बंगले पर लगातार बारिश से टपक रहे पानी और उससे होने वाले मच्छरों से भी परेशान हो गए है। उनका कहना है कि बंगले पर मेंटेनेंस के लिए 5 महीने पहले नोट शीट लिखी थी अब तक नहीं  काम शुरू नहीं हुआ। बंगलों पर इतने मच्छर हैं कि मेरे स्टाफ के दो लोगों को मलेरिया हो गया है साफ सफाई नहीं हो रही।मच्छरों ने बुरी तरह से सबको  परेशान कर रखा है।लेकिन उनकी शिकायत को सुनने वाला कोई नहीं है। अब विधायक सुरेंद्र सिंह भी इस मामले की शिकायत सीएम कमलनाथ से करने की बात कह रहे हैं।


"To get the latest news update download the app"