...इसलिए बीजेपी विधायक ने राजनीति छोड़ने का किया दावा

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप पर बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री ने हमला बोला है। पूर्व मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि दिग्विजय सिंह ने विधायकों को प्रलोभन देने की जो बात कही है वह उसके पुख्ता प्रमाण सामने लाएं। 

उन्होंने कहा कि सिंह ने दावा किया कि हॉर्स ट्रेडिंग के लिए 100 करोड़ रुपए लेकर ढाबे पर विधायकों को लालच दी गई। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी राशि ढाबों पर नहीं, बल्कि फाइव स्टार होटलों में ले जाकर डील की जाती है। अगर सिंह के पास कोई सबूत हो तो वह सबके सामने पेश करें। यदि पुख्ता सबूत सामने आएंगे तो राजनीति छोड़ देंगे।

यही नहीं पूर्व जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह हमेशा चर्चा में बने रहना चाहते हैं। यही कारण है कि वह मीडिया में उल्टी-सीधी बयानबाजी कर रहे हैं। मीडिया से चर्चा में मिश्रा ने कहा कि विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में हमारे दल द्वारा ऐसा कोई काम नहीं किया गया है। जहां तक बैजनाथ कुशवाहा के बारे में दिग्विजय जो बोलते हैं, तो कुशवाहा हमारे क्षेत्र से आते हैं। चुनाव के बाद  कई बार हमारे पास भी आए। जहां तक जनरैल सिंह का प्रश्र है तो उनसे उनकी कोई बात नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह द्वारा लगाए गए आरोप पूरी तरह हास्यपद हैं।

गौरतलब है कि दिग्विजय सिंह ने बीजेपी के तीन पूर्व मंत्रियों पर आरोप लगाए थे कि वह विधायकों की खरीद फरोख्त में लगे हैं। उन्होंने कहा था कि बीजेपी नेताओं ने एक ढाबे पर विधायकों पर बुलाकर करोड़ों की पेशकश की थी। उनके आरोप के बाद बीजेपी ने मोर्चा खोल दिया था। भाजपा ने सिंह के दावों को खोखला बताया था। पूर्व सीएम शिवराज ने भी इन आरोपों को खारिज कर दिया था। 

"To get the latest news update download the app"