Breaking News
व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित |

एमपी में बढ़ा नक्सलियों का मूवमेंट, मंडला में वन विभाग की चौकी को किया आग के हवाले

मंडला

छत्तीसगढ़ के बाद नक्सलियों ने अब मध्यप्रदेश में भी पैर पसारना शुरु कर दिया है। मध्यप्रदेश के कई जिलों जैसे बालाघाट, अनूपपुर, मंडला व सिंगरौली मे इनकी हरकते आए दिन देखने को मिल रही है। इन जिलों से पिछले लंबे समय से लगातार या तो नक्सली पकड़े जाते रहे हैं या उनके आने की सूचना मिलती रही है।एक बार फिर ये एमपी के लाल आतंक वाले ठिकानों में वारदातें करके दहशत फैलाने का काम कर रहे हैं। ताजा मामला मंडला का है, जहां होलिका दहन की रात नक्सलियों ने वन विभाग की एक चौकी फूंक दी। गनिमत रही कि उस वक्त चौकी में कोई नहीं था, वरना बड़ा हादसा हो सकता था, और कई लोगों की जान भी जा सकती थी।घटना  नथावर क्षेत्र की बताई जा रही है।

मिलीं जानकारी के अनुसार, होलिका दहन के दिन जहां पूरा शहर पूजा की तैयारियों में लगा हुआ था, वही नथावर क्षेत्र में बनी वन विभाग की एक चौकी में कुछ नक्सलियों ने देर रात आग लगा दी। हालांकि वहां कोई मौजूद नही था,चुंकी जंगली इलाके होने के चलते वहां कोई कर्मचारी नहीं रहता है।इसी की फायदा उठाकर नक्सलियों ने वारदात को अंजाम दिया है।  फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है। जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि नक्सली यहां तक कैसे पहुंचे और चौकी में आग लगाने के पीछे उनका क्या उद्देश्य था।

बता दे कि तीन दशकों से भी ज्यादा समय से बस्तर में आतंक मचा रहे लाल लड़ाके अब छत्तीसगढ़ की सीमा को लांघकर मध्यप्रदेश को अपना नया ठिकाना बनाने की तैयारी में हैं।एक बार फिर यहां नक्सली अपनी जमीन तलाशते नजर आ रहें हैं। नक्सली हलचल बढ़ने से ना सिर्फ छत्तीसगढ बल्कि मध्यप्रदेश में भी आंतरिक सुरक्षा पर खतरा बढ़ता दिखाई दे रहा है। इसके चलते पुलिस को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए है। खास करके चौकियों में चौकसी बढ़ा दी गई है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...