नगरों की तरह पंचायत स्तर पर भी होगी स्वच्छता की रैंकिंग

मंदसौर तरुण राठौर| देश भर में स्वच्छता मिशन के तहत नगर पालिका, नगर निगम ,नगर पंचायत को अब तक भारत सरकार द्वारा पुरस्कृत किया जा रहा है, इसके लिए केंद्र सरकार हर साल ऑडिट कराती हैं जिसके आधार पर रैंकिग की जाती है जो शहर इस रैकिंग में पहले स्थान पर आता है उसे सरकार इनाम देती है | यह सब इस लिए किया जा रहा है कि भारत में लोग स्वछता के प्रति ओर अधिक जागरूप हो । इसी का नतीजा है कि लोग अब स्वछता के प्रति जागरूक  भी हो रहे हैं| इसी तरह अब भारत सरकार ग्राम पंचायत स्तर पर भी स्वछता को बढ़ावा देने के लिए पुरस्कृत करेगी। इसके लिए जिला पंचायत को आदेश दिए गए हैं जो जनपद पंचायतों की मदद से जिला स्तर पर टीम का गठन करेगी। जो ग्राम- ग्राम जाकर वहां की स्वच्छता की जानकारी एकत्र कर रिपोर्ट तैयार करेंगे। इसके लिए जिला पंचायत ने आडिट तैयार किया है जिसमें कई बिन्दुओ को सम्लित किया गया है जिसके आधार पर ये टीमें पंचायत स्तर पर रैंकिग करेगी । 

इस रैंकिंग में जो ग्राम सबसे ज्यादा स्वच्छ पाए जाएंगे उन्हें सांसद निधि से सम्मानित किया जाएगा ।इस हेतु जिला पंचायत ने जनपद पंचायत को आदेश जारी कर दिए है और आदेश के बाद जनपद पंचायतों ने ऑडिट की टीम का गठन किया है जो अगले महीने के अंत तक ग्राम स्तर पर जाकर रैंकिंग करेगी । जिससे की ग्रामीण स्तर पर भी लोग स्वछता को लेकर जागरूप होंगे। इसी लिए अब इस योजना को ग्राम स्तर पर लागू किया जा रहा है वह भो केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर की अनुसंशा पर ।जिसमें प्रथम आने वाली पंचायत को पांच लाख दूसरे तीन लाख वहीं तीसरे को दो लाख का इनाम दिया जाएगा।वह भी सांसद निधि से। इस हेतु एक विकासखंड से तीन पंचायतो का चयन होगा । जिनको इस प्रतियोगिता के आधार पर इनाम दिया जाएगा।

"To get the latest news update download tha app"