Breaking News
जब मध्य प्रदेश की मंत्री को महंगा पड़ा था अंबानी का विरोध | MP: कांग्रेस-बसपा गठबंधन की संभावना बरकरार, हो सकता है गुप्त समझौता | SC-ST एक्ट पर BJP में फूट: शिवराज के ऐलान से नाराज उदित राज, दे डाली यह नसीहत | दर्दनाक हादसा: दो कारों की भिड़ंत में जनपद सीईओ समेत 4 लोगों की मौत | कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! |

शांति के टापू मध्यप्रदेश में खूनखराबा करवाना चाहती है कांग्रेस : शिवराज

मंदसौर

आंदोलन से दो दिन पहले किसानों से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज ने कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला है। शिवराज ने कांग्रेस पर खूनखराबा करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस प्रदेश में अशांति फैला रही है। किसान आंदोलन की आड़ में खून खराबा करवाना चाहती है। उन्होंने किसानों से अपील की है कि वे कांग्रेस के बहकावे में ना आए और ना ही कोई जोखिम अपने हाथ में लें।शिवराज ने मंदसौर के जिला कलेक्टर और एसपी से मुलाकात कर जिले में कानून व्यवस्था की जानकारी ली।

दरअसल, एक से जून के बीच प्रदेश में किसान आंदोलन  होना है।इसी बीच मुख्यमंत्री शिवराज 30  मई बुधवार को वे मंदसौर-नीमच जिले के असंगठित श्रमिक, तेंदूपत्ता संग्राहक सम्मेलन व अंत्योदय मेले में किसानों से मिलने पहुंचे और उनकी मांगों को जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। साथ ही साथ कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है और कांग्रेस खून खराबा करके इसमें अशांति फैलाना चाहती  है। आगे सीएम ने किसानों से भावात्मक अपील करते हुए कहा कि ‘मेरे शांति के टापू को बचा लो भाइयों.. कांग्रेस प्रदेश में अराजकता, हिंसा की आग, खूनखराबा फैलाना चाहती है। कांग्रेस के लोग भड़काने का काम कर रहे हैं। उनके इरादे पहचानो और इनके बहकावे में मत आओ।

शिवराज यही नही रुके उन्होंने आगे कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने किसानों के लिए आजतक जितना काम किया है उतना किसी ने नही किया ।सरकार ने किसानों की सारी योजनाओं पर 20 हजार करोड़ रु. बांटे हैं।कांग्रेस के राज में बिजली, पानी औऱ सड़क की समस्या बनी रहती थी, लेकिन मध्यप्रदेश सरकार ने तीनों पर जोर दिया और आज गांव-गांव बिजली और घर-घर पानी पहुंच रहा है। सड़कें ऐसी हो गईं कि पेट का पानी तक नहीं हिलता। कांग्रेस ने हमेशा किसानों, गरीबों के नाम पर वोटों की फसल ही काटी है। सरकार आगे भी इस विषय में काम कर रही है।  आने वाले समय में कोई भी नुकसान होगा तो सरकार किसानों के साथ खड़ी है। शिवराज रात मंदसौर में ही रुके औऱ  मंदसौर, नीमच और रतलाम जिले में आंदोलन को लेकर प्रशासन द्वारा की गई तैयारियों की समीक्षा की।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...