MP में कांग्रेस की सरकार बनी तो 10 दिन में माफ़ होगा किसानों का सारा कर्जा : राहुल गांधी

मंदसौर।

आज मंदसौर गोलीकांड की पहली बरसी है और कांग्रेस की तरफ से आयोजित 'किसान समृद्धि संकल्प रैली' शुरू हो चुकी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी ने सभा स्थल पर पहुंचकर श्रद्धांजलि सभा में मृतक किसानों को श्रद्धांजलि अर्पित की और वहां पहुंचे उनके परिजनों को गले लगाया। परिजन राहुल गांधी के गले लगते ही रो पड़े और अपनी पीड़ा जाहिर की।  राहुल गांधी के साथ मंच पर  प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ, गुना सांसद ज्योतारादित्य सिंधिया, वरिष्ठ नेता दिग्विजय, कांतिलाल भूरिया और राहुल गांधी की करीबी मीनाक्षी नटराजन मौजूद है। कमलनाथ और सिंधिया की बैठने की व्यवस्था राहुल गांधी के पास की गई है।

इस मौके पर किसानों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मंदसौर गोलीकांड के एक साल बाद भी जाँच आयोग की रिपोर्ट नहीं आई है। शहीद किसानों के परिवार न्याय का इंतज़ार कर रहे हैं। अपने परिजनों को खोने का दर्द मैं जानता हूँ। आज पीड़ित परिवारों के साथ कुछ पल बिताकर  उनका दर्द बाँटने की कोशिश की।ये नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह चौहान की सरकार है, लेकिन कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया की सोच दूसरी है। हम चाहते हैं कि किसानों को उनका हक मिले, युवाओं को रोजगार मिले।हम ये नहीं कहते है कि मैं आपके जेब में 15 लाख रुपए डाल दूंगा, हम जो कहेंगे सच कहेंगे। हम आपको सिर्फ मंडी में पैसा नहीं देना चाहते हैं, हम आपकी जिंदगी बदलना चाहते हैं।


शिवराज पर बोला हमला 

मध्यप्रदेश नें किसानों की हालात बहुत खराब है।शिवराज किसान विरोधी है।  उन्होंने आगे कहा कि जिस दिन एमपी में कांग्रेस की सरकार आएगी...दस दिन के भीतर किसानों का सारा क़र्ज़ माफ़ होगा..ग्यारहवाँ दिन नहीं लगेगा।किसानो को सीधे मंडी में पैसा देंगे।हम अपने मन की नही आपके मन की बात करेंगें। उन्होंने कहा कि मुझे एक महिला मिली जिसे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आपके बेटे की मौत के लिए एक करोड़ रूपये दिए, महिला ने कहा आप 2 करोड़ लो और आपका बेटा देदो । राहुल गांधी ने व्यापम घोटाले में शिवराज और उनके परिवार का हाथ होने की बात कही।

देश में कांग्रेस की सरकार बनी तो होगी जनता के मन की बात

राहुल ने कहा कि अगर देश में कांग्रेस की सरकार आई तो फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट लगाएंगे ।खेतो को शहर और सड़को से जोड़ेंगेय़ मेड इन मंदसौर का काम शिवराज और मोदी नहीं कर सकते। चीन से प्रतियोगिता करके दिखाएंगे । 10 साल में मंदसौर का लहसून चीन की राजधानी बीजिंग में बेचकर दिखाएंगे। मध्यप्रदेश के हर जिले में कुछ न कुछ उगता है, आप मंडी में माल बेचते हो फिर आपको जो चेक मिलता है उससे 15 प्रतिशत कम हो जाता है। जो फायदा आपकी मेहनत का आपको मिलना चाहिए हम आपको देंगे। गांवों में फूड प्रोसेसिंग प्लांट बनाएंगे। इनमें हम किसानों के बेटे-बेटियों को रोजगार देंगे।। राजस्थान में जब हमारी सरकार ने थी तब हमने मुफ्त में दवाएं दी थी।



 इस दौरान मंच पर मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिग्विजय सिंह, कांतीलाल भूरिया और दीपक बाबरिया समेत अन्य नेता मौजूद रहे।इलाके में इंटरनेट काफी धीमी गति से चल रहा है, इस दौरान प्रशासन पर इंटरनेट बाधित करने का आरोप लगाया गया। सुबह शुरू हुई श्रद्धांजलि सभा के मंच पर पारस सकलेचा की मंदसौर गोलीकांड पर लिखी किताब का विमोचन किया गया। इसके बाद एक शार्ट फिल्म दिखाई गई। कांग्रेस नेताओं ने मंच से घनश्याम धाकड़ की मौत की न्यायिक जांच करने की मांग भी की।आज की सभा की कमान मीनाक्षी नटराजन के हाथों मे रही।मंच पर 27 नेताओं के बैठने की व्यवस्था की गई ।कमलनाथ और सिंधिया की बैठने की व्यवस्था राहुल गांधी के पास की गई है। सभा का संचालन एनएसयूआई के प्रदेशाध्यक्ष विपिन वानखेडे कर रहे है। दूसरी तरफ दिनेश गुर्जर किसान यात्रा लेकर मंदसौर की पिपलियामंडी पहुंचे है। 

राहुल द्वारा सभा में उन परिवारों को भी बुलाया है जिनके परिजनों की पुलिस फ़ायरिंग में मौत हुई थी। पिपलियामंडी के पास खोखरा में होने वाली इन सभाओं में राहुल समेत देश-प्रदेश के कई बड़े नेता भी शामिल हुए ।वही परिजनों ने शासन-प्रशासन पर आरोप लगाया है कि सरकार द्वारा उन्हें राहुल गांधी से मिलने से रोका जा रहा है, धमकी दी जा रही है कि अगर राहुल गांंधी से मिलने पहुंचे तो नौकरी से निकाल दिया जाएगा।इस पूरे कार्यक्रम के दौरान पुलिस-प्रशासन हाई अलर्ट पर रहा। सोशल मीडिया पर भी पुलिस एक्टिव रही है। वही राहुल को लेकर सुरक्षा में प्रदेश के कई जिलों से आए दल में करीब 1500 लोगों का फोर्स लगाए गए है। करीब 50 पुलिस अधिकारी, सुरक्षा बलों की पांच कम्पनियां, 600 अतिरिक्त जवानों की तैनाती है। हवाई पट्टी से सभा स्थल तक ड्रोन कैमरों से भी लगातार नज़र रखी जाएगी। 40-50 एसपी-डीएसपी हैं और 600 जवान लगाए गए हैं।  इसमें से करीब 1000 का दल राहुल के सभा स्थल से लेकर हवाई पट्‌टी, हेलीपेड तक लगा हुआ है। आईजी राकेश गुप्ता, कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव, एसपी मनोजकुमार सिंह समेत एसपीजी दल ने हर पाइंट को बारीकी से देखा।

बता दे कि पिछले साल जब मंदसौर में गोलीकांड की घटना हुई थी, तब भी राहुल गांधी पुलिस फायरिंग में मारे गए 6 किसानों के परिवारों से मिलने मंदसौर आये थे, लेकिन तनाव के हालात को देखते हुए प्रशासन ने उन्हें किसानों से मिलने की अनुमति नहीं दी थी और जिले में उनके प्रवेश पर रोक लगा दी थी। गोलीकांड के एक साल बाद राहुल फिर मंदसौर आ रहे है।इस बार प्रशासन ने उन्हें अनुमति दे दी है, लेकिन अनुमति के साथ 19 शर्ते भी जोड़ दी ,  जिसमे लिखा था किसी भी "उत्तेजक" भाषण न दिया जाए ।   15 बाय 15 फीट का टेंट लगाने की अनुमति है। सभा के लिए लाउडस्पीकर इस्तेमाल किए जा सकते हैं, लेकिन 10 डेसिबल से अधिक ध्वनि वाले लाउड स्पीकर का प्रयोग न हो। यह भी कहा गया था कि रैली में भाग लेने वाले किसी के भी वाहन चोरी होने पर आयोजक जिम्मेदार होंगे। साथ ही पार्किंग, बिजली, फायर ब्रिगेड की व्यवस्था संचालक द्वारा ही की जाए। पत्र में कहा गया है, इन शर्तों में से किसी एक के उल्लंघन के मामले में अनुमति रद्द कर दी जाएगी। अनुमति पत्र को लेकर कांग्रेस ने विरोध जताया था ।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में नवंबर-दिसंबर के बीच चुनाव होना हैं। ऐसे में कांग्रेस का लक्ष्य इस सभा को सफल बनाना है। यही से कांग्रेस चुनावी शंखनाद करने वाली है।राहुल गांधी के दौरे को  लेकर कई कयास लगाए जा रहे है, वही दूसरी तरफ भाजपा में हडकंप मचा हुआ है। राहुल गांधी के मध्यप्रदेश दौरे को लेकर राजनैतिक सरगर्मियां तेज हो चली है, वही बयानबाजियों का दौर भी जोरों पर है।

ऐसा रहेगा कार्यक्रम

- सुबह 11 बजे दिल्ली एयरपोर्ट से निकलेंगे।

- दोपहर 12.30 बजे मंदसौर हवाई पट्‌टी पहुंचेंगे।

- 12.35 बजे मंदसौर हवाई पट्‌टी पर उतरेंगे।

- 12.50 बजे हेलिकॉप्टर से खोखरा पहुंचेंगे।

- 12.55 बजे पिपलियामंडी के गांव खोखरा हेलीपेड ग्राउंड से बाय रोड सभा स्थल आएंगे।

- 1 बजे सभा स्थल पर जाएंगे (मंच के नजदीक दिवंगतों के परिजन व वरिष्ठ कांग्रेसजन से मिलेंगे। श्रद्धांजलि, किसान सभा होगी।

- 3 बजे खोखरा सभा स्थल से बाय रोड निकलेंगे।

- 3.05 बजे खोखरा हेलीपेड ग्राउंड पहुंचेंगे।

- 3.10 बजे हेलीपेड से हेलिकाॅप्टर में सवार होंगे।

- 3.25 बजे मंदसौर हवाई पट्‌टी पहुंचेंगे।

- 3.30 बजे प्लेन से मंदसौर से रवाना होंगे।

- शाम 5 बजे दिल्ली। 

- सूत्रों के मुताबिक राहुल पशुपतिनाथ मंदिर में दर्शन भी कर सकते हैं।