Breaking News
स्वास्थ्य विभाग में मंत्री का आदेश रद्दी की टोकरी में | मोदी सरकार के 4 साल : बैलगाड़ी, ठेला अैर साइकिल पर सवार होकर कांग्रेस ने मनाया 'विश्वासघात दिवस' | मैं सेवा की ऐसी लकीर खींचूंगा, जिसे मेरे मरने के बाद भी मिटाया न जा सकेगा : शिवराज | पुलिसवाले के दोस्त ने युवतियों से की छेड़छाड़, चप्पलों से हुई पिटाई, खाकी पर उठे सवाल | बैतूल में आज एक और किसान ने की आत्महत्या, सड़क पर शव रख ग्रामीणों ने किया चक्काजाम | MP : मोदी सरकार के चार साल, कांग्रेस मना रही 'विश्वासघात' दिवस | विश्वासघात दिवस : कांग्रेस नेता ने गिनाई मोदी सरकार की 5 नाकामियां | VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल | VIDEO : विधायक ने 'हमसफ़र' को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, पहले दिन यात्री दिखें उत्साहित | 6 जून से पहले जिलों में जाकर किसानों को मनाएंगे मुख्यमंत्री  |

21वीं सदी में अन्धविश्वास हावी, माता को प्रसन्न करने महिला ने जीभ काटकर चढ़ाई

मुरैना

हम 21 वी सदी में पहुँच गए है, लेकिन अंधविश्वास आज भी हावी है। बलि प्रथा जैसी कुरीति के लिए लंबी जंग सामाजिक संगठनों ने लड़ी लेकिन ये खत्म होने का नाम नही ले रही है।  ऐसा ही एक मामला मुरैना जिले में सामने आया जहाँ  भक्ति में लीन एक महिला ने अपनी जुबान काटकर माता के पैरों में चढ़ा दी । घायल महिला को परिजन अस्पताल लेकर पहुचे जहाँ उसका इलाज किया जा रहा है ।

पोरसा तहसील के तरसमा गांव इस गांव को शहीदों के नाम से भी जाना जाता है यहाँ  कि गुड्डी पत्नी रवि सिंह तोमर 42 वर्ष करीब 20 वर्ष से गाँव में ही बने बीजासेन माता के मंदिर पर नियमित पूजा कर रही है हर रोज की भांति आज भी महिला गुड्डी तोमर माता के मंदिर पर पूजा करने गई ।फिर 3 घंटे बाद गांव का ही बच्चा भागता हुआ आया और उसने बताया कि मंदिर में खून पड़ा है तो सब गाँव वालों सहित परिजन भी मौके पर गए तो वहां महिला के मुँह से खून निकल रहा था और महिला की कटी हुई जीभ माता के पैरों में रखी थी परिजन तुरंत घायल महिला व कटी हुई जीव को लेकर  पोरसा स्वास्थ्य केंद्र पहुँचे जहां प्राथमिक उपचार के बाद घायल महिला को मुरैना जिला चिकित्सालय रैफर कर दिया गया है


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...