Breaking News
अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग |

VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल

मुरैना।

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के नूराबाद थाना इलाके में नेशनल हाइवे पर प्रदेश के स्वास्थ मंत्री रुस्तम सड़क दुर्घटना में बाल बाल बच गये। उनके पीछे चल रही फॉलो गाडी का अचानक टायर फट गया और वो सीधे सड़क पर खड़े ट्रक से जा टकराई। दुर्घटना में उसमें बैठे तीन पुलिसकर्मी घायल हो गये। इसमें एएसआई एम एल मौर्य की हालत गंभीर बताई जा रहे है जिन्हे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

दरअसल,  मध्यप्रदेश शासन के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह का काफिला अपने क्षेत्र में दौरा कर मुरैना की ओर लोट रहे थे कि तभी अचानक एनएच थ्री जरेरूआ गांव के पास काफिले में आगे चल रहा पायलेट वाहन सामने खड़े ट्रक से अचानक जा टकराया। गाड़ी टकराते ही गाड़ी का टायर फट गया, और पायलेट वाहन में बैठे एएसआई गंभीर रूप से घायल हो गये। अचानक हुये हादसे से पीछे चल रही स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह की गाड़ी टकराने से बच गईं। जिससे स्वास्थ्य मंत्री बाल-बाल बचे। स्वास्थ्य मंत्री की सुरक्षा में लगे पुलिस पायलेट वाहन पुलिस ने प्रायवेट वाहन को हायर किया था। प्रायवेट वाहन का काफिले में तेजी से चलने के कारण अचानक टायर फट जाने से सामने खड़े ट्रक में जा टकराया, जिससे सुरक्षा में लगे एएसआई एमएल मोर्य गंभीर रूप से घायल हो गये। वहीं गाड़ी दुर्घटना ग्रस्त हो गई। घायल एएसआई को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज जारी है, वहीं घायल एएसआई बहुत दु:खी थे कि अचानक हुये हादसे में गंभीर रूप से घायल हुआ हूं, अभी तो मेरे परिजन आ गये हैं, लेकिन दो घंटे से मैं यहां हास्पिटल में अकेला पड़ा हुआ है, अभी तक कोई देखने नहीं आया, स्वास्थ्य मंत्री के काफिले का नेतृत्व करते समय यह हादसा हुआ है। लेकिन फिर भी स्वास्थ्य मंत्री ने अभी तक मेरा हाल जानने की कोशिश नहीं की है।




  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...