राम मंदिर को लेकर भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने फिर दिया बड़ा बयान, गर्माई सियासत

नई दिल्ली।

लोकसभा चुनाव के पहले राम मंदिर का मुद्दा गर्माया हुआ है।हमेशा अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज ने एक बार फिर इसको लेकर बड़ा बयान दिया है।  उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले अगर मंदिर का निर्माण नहीं होता तो वह बगावती रुख अख्तियार करेंगे। महाराज के बयान के बाद से ही सियासत गर्मा गई है, वही भाजपा में हड़कंप मच गया है।

उन्होंने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार अगर 2019 से पहले तक अयोध्या में श्रीराम का भव्य मंदिर नहीं बनवाती है तो वह भारतीय जनता पार्टी से बगावत करने में पीछे नहीं हटेंगे।  आज मैं जो भी हूं वो भगवान श्रीराम की कृपा से हूं। भारतीय जनता पार्टी आज जिस मुकाम पर है, उसके पीछे भगवान राम और संतों का योगदान है। दिल्ली की बैठक में संतों ने बीजेपी के खिलाफ नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के मुद्दे पर उनका समर्थन संतों के साथ है।

उन्होंने दावा करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट आदेश करे या सरकार अध्यादेश लाए। अयोध्या में 6 दिसम्बर के बाद संत-समाज राम मंदिर के निर्माण की शुरुआत करेंगे। इससे पहले साक्षी महाराज ने कहा था कि राम मंदिर निर्माण हमेशा से विश्व हिंदू परिषद बीजेपी और आरएसएस के एजेंडे पर रहा है। हमेशा से सभी लोग कहते रहे हैं कि राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में होगा। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो। 

बता दें कि, इससे पहले साक्षी महाराज ने कहा था कि विपक्ष बौखलाया हुआ है। राम मंदिर निर्माण की बात अमित शाह या नरेंद्र मोदी लेकर आते तो कहा जाता कि ये मुद्दा बीजेपी लेकर आई है, लेकिन ये मुद्दा देश के सभी हिंदुओं का है। बीजेपी मंदिर नहीं बनाएगी तो हम मंदिर बनाने में सक्षम हैं। 

"To get the latest news update download tha app"