भारी बारिश के चलते अमरनाथ यात्रा रोकी, पहले दिन सिर्फ 1,007 श्रद्धालु कर पाए दर्शन

जम्मू

अमरनाथ की यात्रा गुरुवार से शुरु हो चुकी है। गुरुवार को जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा ने पारंपरिक तरीके से गुफा का ताला खोला और सबसे पहले आरती की। पहले दिन1007 श्रद्धलुओं ने पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन किए। वही आज सुबह से मौसम खराब होने की वजह से यात्रा को रोक दिया गया है। वही मौसम विभाग हर 4 घंटे बाद वैदर अपडेट बुलेटिन जारी करता रहेगा, ताकि किसी भी तरह की आपात स्थिति से पहले अलर्ट किया जा सके।

बताया जा रहा है कि सुबह बारिश के बीच आधार शिविर नुनवान (पहलगाम) से मात्र 60 श्रद्धालुओं को छोड़े जाने के बाद यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए यात्रा को पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया, जबकि बालटाल से सुबह रोके गए 1316 श्रद्धालुओं के जत्थे को दोपहर 12 बजे मौसम में आंशिक सुधार के बाद पवित्र गुफा की तरफ रवाना किया गया। सड़क मार्ग इस्तेमाल करने की अनुमति मिलने के बाद आज तड़के 3,434 श्रद्धालुओं का दूसरा जत्था भगवती नगर आधार शिविर से कश्मीर रवाना हुआ और उनके शाम तक नुनवान - पहलगाम और बालटाल के आधार शिविरों तक पहुंचने की संभावना है।

बता दे कि शिवलिंग के दर्शन के लिए 60 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा के लिए अभी तक दो लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने पंजीकरण कराया है। इस यात्रा का समापन ‘रक्षाबंधन’ के दिन 26 अगस्त को होगा।