रेल हादसा: न्यू फरक्का एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 7 की मौत, दर्जनों घायल

लखनऊ। 

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हरचंदपुर रेलवे स्टेशन के पास बुधवार की सुबह एक बड़ा रेल हादसा हो गया।यहां 14003 न्यू फरक्का एक्सप्रेस ट्रेन की इंजन समेत नौ डिब्बे पटरी से उतर गए । हादसा इतना भयानक था कि 7 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दर्जनों घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भर्ती करवाया गया है।  फिलहाल लखनऊ और वाराणसी से एनडीआरएफ की टीमें घटनास्थल के लिए रवाना हो गई हैं।हादसे के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे के शिकार लोगों को हर संभव मदद पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही मृतकों के परिजनों को दो लाख और घायलों को 50 हजार रुपए के मुआवजे की घोषणा की है।


जानकारी के अनुसार, यह ट्रेन मालदा से रायबरेली होते हुए दिल्ली जा रही थी। रायबरेली से 6 किलोमीटर दूर हरिचंदपुर रेलवे स्टेशन पर न्यू फरक्का एक्सप्रेस सुबह करीब साढ़े चार बजे डिरेल हो गई। ट्रेन के चार डिब्बे पटरी से उतर गए। बताया जा रहा है कि ट्रेन के डिब्बे लाइन से उछलकर दूर जा गिरे। हादसे में अब तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है। घायलों की संख्या सैकड़ों में बताई जा रही है। जिन्हें अस्पताल ले जाया गया है। ट्रेन के हादसे का शिकार होने की जानकारी मिलते ही मौके पर प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। यहां राहत एवं बचावकर्मियों ने राहत कार्य शुरू किए, जिसके बाद यात्रियों को ट्रेन से बाहर निकाला। हालांकि अब तक इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि आखिरकार ये हादसा हुआ कैसे।

गौरतलब है कि इससे पहले नवंबर, 2017 में भी UP के चित्रकूट के पास मानिकपुर में वास्को डि गामा एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। इस घटना में ट्रेन के 13 डिब्बे पटरी से उतर गए थे, जबकि 3 लोगों की मौत हुई थी। सितंबर, 2017 महीने में यूपी के सोनभद्र जिले में एक और रेल हादसा हुआ था।शक्तिपुंज एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। ट्रेन हावड़ा से जबलपुर जा रही थी। वही अगस्त, 2017 में पुरी से हरिद्वार जा रही कलिंग उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरनगर के खतौली रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई थी। ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतरकर अगल-बगल के घरों और एक स्कूल में घुस गए। इस हादसे में 23 लोगों की मौत हुई थी। इसके अलावा खतौली रेल हादसे के होने के 5 दिन के अंदर कानपुर और इटावा के बीच औरैया जिले में एक और हादसा हुआ था। दुर्घटना की वजह से ट्रेन के इंजन सहित 10 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। यूपी के महोबा में 30 मार्च, 2017 को महाकौशल एक्सप्रेस पटरी से उतरी थी, 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।