एक लाख की रिश्वत लेते ट्रैप हुए डॉक्टर की बेशर्मी...ऐसे मसल्स दिखाता रहा

पन्ना| नवविवाहिता की मौत की रिपोर्ट उसके पिता के पक्ष मे करने के लिए एक लाख की रिश्वत लेने वाले शाहनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ ड़ाक्टर निर्मल ड़िसूजा का नया कारनामा सामने आया है | लोकायुक्त की कार्रवाही के दौरान आरोपी ड़ाक्टर निर्मल ड़िसूजा लोकायुक्त निरिक्षिक बीएम द्रिवेदी से अपनी मसल्स मिला रहा है| डॉक्टर डिसूजा की इस तरह की फोटा वायरल होने के बाद अंदाजा लगाया जा सकता है कि लोकायुक्त के हाथो एक लाख की रिश्वत लेते पकड़ाने के बावजूद डॉक्टर को कोई डर नहीं, कोई शर्म नहीं और न कोई पछतावा है| बल्कि डॉक्टर कार्रवाई के दौरान मौज कर रहा था| 

बताया जा रहा है कि ये फोटो उस समय खींचा गया है जब लोकायुक्त की टीम ड़ाक्टर निर्मल डिसूजा को एक लाख की रिश्वत के साथ गिरफ्तार करने के बाद अपनी कार्रवाही कर रही थी| लोकायुक्त निरिक्षक की मसल्स के साथ आरोपी डॉक्टर अपनी मसल्स मिला रहै है | इस दौरान लोकायुक्त के और भी अधिकारी उनके साथ बैठे हुए है, जो डॉकटर को एक आरोपी ना मानते हुए उसके साथ हसी ठिठोली कर रहे हैं| 

बता दें कि सोमवार को प्रायमरी हेल्थ सेंटर शाहनगर में पोस्टेड मेडिकल ऑफिसर डाॅ. एनके डिसूजा को लोकायुक्त पुलिस ने एक लाख रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। एक लड़की के खुदकुशी के मामले की पीएम रिपोर्ट बदलने की एवज में अारोपी डॉक्टर ने 2 लाख रुपए रिश्वत की मांग की थी। लड़की के पिता की शिकायत पर इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया।  छतरपुर निवासी महैश सिंह से उनकी नवविवाहिता बेटी की रिपोर्ट उनके पक्ष मे बनाने के लिए ड़ाक्टर ने दो लाख की रिश्वत माँगी थी जिसकी पहली किश्त कल डाक्टर अपने निवास पर ले रहा था तभी सागर से आई लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथो उसे गिरफ्तार कर लिया था|