मंत्री पटवा के सामने लगे मुर्दाबाद के नारे, उधर सागर में भाजपा विधायक भी हुए जनआक्रोश का शिकार

रायसेन/सागर।

इन दिनों भाजपा द्वारा विकास यात्रा निकाली जा रही है, जिसमें भाजपा द्वारा किए जा रहे कार्यों का बखान किया जा रहा है। लेकिन योजनाओं की जमीनी हकीकत क्या है औऱ कितना उससे जनता को लाभ मिला है इसका अंदाजा ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों के नेताओं के प्रति आक्रोश और कार्यक्रम के बहिष्कार से ही पता चलाया जा सकता है। जी हां ऐसी ही दो घटनाएं मध्यप्रदेश के जिले से सामने आई है जहां विकास यात्रा के दौरान जनता द्वारा भाजपा विधायकों का विरोध किया गया ।

दरअसल, जिले के भोजपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक और प्रदेश सरकार में पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा ने विकास यात्रा के कार्यक्रम के अंतर्गत ग्राम कुमडी विटोरी बड़ोनिया नूरगंज सहित नगर पंचायत ओबेदुल्लागंज में विकास कार्यों का भूमि पूजन किया। उनके साथ मुख्य अतिथि के रुप में जिले के प्रभारी मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा भी मौजूद रहे।  जब नूरगंज ग्राम पंचायत की ओर से औबेदुल्लागंज के लिए मंत्री सुरेंद्र पटवा सहित प्रभारी मंत्री सूर्यप्रकाश मीणा का काफिला आ रहा था उस दौरान नाना खेड़ी गांव के सड़क टूटी पुलिया पानी की समस्या ग्रामीण समस्या को लेकर मंत्री को आवेदन देने के लिए ग्रामीण खड़े थे ।

इसी दौरान पुलिस प्रशासन ने ग्रामीणों से मिलकर उनकी समस्या सुनी और मंत्री को आवेदन देने के लिए बोल दिया , जब स्थानीय विधायक  और  प्रदेश सरकार में पर्यटन मंत्री सुरेंद्र पटवा का काफिला ग्रामीणों के सामने से गुजरा और ग्रामीणों को देख मंत्री सुरेंद्र पटवा नहीं रुके तो ग्रामीणों ने मंत्री सुरेंद्र पटवा के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरु कर दिया अब सवाल यह उठता है कि एक जनप्रतिनिधि विधायक और मंत्री जनता की समस्या नहीं सुनेगा तो फिर कौन उनकी समस्या को सुनेगा वह जनता की कौन सुनेगा जिसने अपना वोट देकर एक विधायक और मंत्री बना दिया लेकिन उनकी समस्या सुनने के लिए कोई तैयार नहीं ।

सागर में भाजपा विधायक का विरोध

वही सागर से बीजेपी विधायक शैलेन्द्र जैन भी जनआक्रोश का शिकार हो गए।स्थिति यह हो गई कि विकास यात्रा के दौरान ही विधायक को महिलाओ के आक्रोश से बचने के लिए तिलकगंजवार्ड गांव के हीएक घर मे शरण लेनी पड़ी। इसके बाद महिलाओं के जाने पर विधायक बाहर निकले।बताया जा रहा है कि महिलाएं  वार्ड में विकास न होने से आक्रोशित थी।

"To get the latest news update download the app"