VIDEO: कड़ी धूप में सांची स्तूप का दीदार करने पहुंचा महामहिम का परिवार

रायसेन| मध्य प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर आये राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जहा सागर में दीक्षांत समारोह में शिरकत की। वहीं उनके साथ आये परवार ने सांची के ऐतिहासिक और प्राचीन स्तूप के दीदार किये| यह स्थान अपने स्मारकों और बौद्ध स्तूपों के लिए प्रसिद्ध है। साँची बौद्ध स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है। सांची के स्तूप बेहद प्राचीन माने जाते हैं। इसलिए मप्र आने वाले सभी अतिथियों को यह जगह ख़ास लुभाती है| 

राष्ट्रपति के परिवार के सदस्यो ने सुरक्षा की दृष्टि से मीडिया से दूरी बनाए रखी| सांची स्तूप गेट पर राष्ट्रपति जी की पत्नी को जिला कलेक्टर भावना बालम्बे ने फूलों का गुलदस्ता देकर स्वागत किया| लगभग 1 घंटे स्तूप पर रुकने के बाद पूरा परिवार म्यूजियम देखने के लिए पहुंचा | म्यूजियम में 15 मिनट रुकने बाद गेटवे रिट्रीट पुहंचे। तेज़ धूप होने के बावजूद भी पूरे परिवार में स्तूप देखने का उत्साह दिखा एवं स्तूप के बारे में जानकारी को सुनने के लिए उत्सुकता दिखी। एवं परिवार के सदस्यों ने खूब फोटो खिंचवाई।

 इस मौके रायसेन जिले के एस पी जगत सिंह राजपूत के साथ भारी पुलिस बल तैनात था। सुरक्षा की दृष्टि से कड़े इंतजाम किए गए थे। थाना प्रभारी अजय दुबे ने बताया जैसे ही जानकारी मिली कि माननीय राष्टपति का परिबार साँची आ रहा हैं | सुरक्षा की दृष्टि से बहुत ही कड़े इंतजाम किए गए हैं|