अजब एमपी का गजब मामलाः यहां शौचालय नहीं तो जेल जाओ

राजगढ़| मनीष सोनी|  एमपी अजब है...सबसे गज़ब है| जो कहीं नहीं होता वो मध्य प्रदेश में होता है| राज्य के राजगढ़ जिले से एक ऐसी ही हैरान कर देने वाली ख़बर आई है, जहां शौचालय न बनवाने पर एक बुजुर्ग को जेल की हवा खानी पड़ी| यह खबर चौकाती है, क्यूंकि देश में शौचालय बनवाने के लिए जोर शोर से अभियान चल रहा है, और अफसर अपने जिलों को ओडीएफ घोषित कराने में जुटे हैं| साहब की यही जल्दबाजी के चलते शख्स को जेल भिजवा दिया गया| 

दरअसल, मामला राजगढ़ जिले के कचनारिया गाँव का है, जहां बुजुर्ग देवी सिंह नागर को तय वक्त में शौचालय नही बनवाने पर 1 दिन ओर 1 रात जेल की हवा खानी पड़ी| 14 सितंबर तक पूरे राजगढ़ जिले को ओडीएफ करने के लिए राजगढ़ जिला पंचायत CEO ऋषभ गुप्ता अपनी टीम के साथ राजगढ़ के कचनारिया गाँव का निरीक्षण करने के लिए पहुचे थे| निरीक्षण के दौरान देवी सिंह नागर के यह शौचालय नही था, जिसको लेकर जिला पंचायत CEO ने खुजनेर पुलिस से बोलकर देवी सिंह पर शांति भंग की धारा 151 में मामला दर्ज करवा कर उसे आनन फानन में राजगढ़ जेल भिजवा दिया|  जबकि देवी सिंह का कहना है वह बीमार है उसे पैरालिसिस है । जब इस मामले को लेकर जिला पंचायत सीईओ ऋषभ गुप्ता से बात करना चाहा तो उन्होंने इस मामले में कुछ भी कहने से इंकार कर दिया ।

देवी सिंह नागर का कहना है कि वह पैरालिसिस का मरीज है और शौचालय बनवाने के लिए घर के बाहर निर्माण सामग्री भी रखी हुई है, लेकिन कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है जिससे शौचालय बनाने के लिए गड्ढा खोदने पर पानी निकल रहा था, इसके चलते बारिश के बाद शौचालय बनवाने की तैयारी थी, लेकिन सीईओ साहब ने तो मुझे जेल ही भिजवा दिया ।

इनका कहना है 

जानकारी में आया है  जिला पंचायत द्वारा कचनारिया गांव के किसान को शौचालय ना होने पर कुछ कार्रवाई की है, निश्चित रूप से यह गलत है कि किसी व्यक्ति को ऐसे जेल भिजवाया जाए| 

-अमर सिंह यादव, बीजेपी विधायक राजगढ़ 

 

शौचालय तो होना चाहिए, लेकिन किसी को जेल भेज दिया यह मेरे संज्ञान में नहीं है, शौचालय होना चाहिए लेकिन जेल भेज दे यह ठीक नहीं है मैं पता करता हूं

-रोडमल नागर, सांसद राजगढ़ 


कचनारा के देवी सिंह पिता घीसालाल जाति नागर के विरुद्ध  151 की कार्रवाई थाने द्वारा की गई थी जिसमें जिला पंचायत सीईओ द्वारा इनकी शिकायत की गई थी जहां से राजगढ़ SDM न्यायालय में पेश किया गया था| 

माधव सिंह ठाकुर, थाना प्रभारी खुजनेर