गौशाला में सजा दिया पीएम का मंच, गायों को बाहर निकाला, 8 की मौत

राजगढ़। मनीष सोनी| राजगढ़ जिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता कार्यक्रम के लिए गौशाला की गायों को बाहर निकालने से 8 गायों की मौत का मामला सामने आया है। जिले की जीरापुर तहसील के ग्राम पिपलिया कुल्मी में नवीन गायत्री गौशाला में प्रधानमंत्री की वीडियो कॉफ्रेसिंग के लिए बड़ा मंच सजाया गया है। इस आयोजन के लिए गौशाला की 450 गायों को बाहर कर कृषि मंडी प्रांगण में रखा गया है। जहां गायों की मौत हो गई और भूख से तड़पती हुई कई गायों की हालत खराब है, कार्यक्रम की व्यस्तता में कोई भी उन्हें देखने नहीं पहुँच रहा है वहीं गायों की मौत के बाद स्थानीय स्तर पर मामले को दबाने की कोशिश की जा रही है। 

प्रधानमंत्री मोदी 15 सितंबर को स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम को वीडियो कॉफ्र्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करेंगे। देश के दो दर्जन करीब जिलों में इस तरह के आयोजन रखे गए हैं। जिसमें से मप्र के राजगढ़ में यह आयोजन हो रहा है। इस आयोजन के लिए गोशाला की करीब 450 गायों को गोशाला से बाहर मंडी प्रांगण में रख दिया है। खास बात यह है कि जिन गायों की चलने की स्थिति नहीं है, उनको हाथ ठेले पर बैठाकर मंडी प्रांगण मे पहुचाया गया है। जहां अभी तक  करीब 8 गायों की मौत हो चुकी है। मंडी में जगह जगह गायों के शव पड़े हैं, जिनको ग्रामीणों द्वारा देखा गया है। गौशाला परिसर में सजे मंच और मंडी में पड़े गायों के शवों का वीडियो वायरल हो गया है। स्वच्छता ही सेवा 2018 के अंतर्गत 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक स्वच्छता को लेकर कार्यक्रम चलेंगे। प्रधानमंत्री शनिवार को वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे। इस दौरान देश के 21 प्रदेशों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये गोवर्धन योजना एवं स्वच्छता ही सेवा 2018 के इस प्रोग्राम के जरिये सरपंच व सचिव से चर्चा करेंगे किसको लेकर राजगढ़ के पिपलिया कुल्मी में ये पांडाल लगाया गया है।  एक ओर जहां गोशाला की गायों को निकाल कर मंडी में भूखा प्यासा बंद किया गया हैं। 


गांवों की गाएं बढ़ाएंगी कार्यक्रम की शोभा

गौ सुरक्षाके नाम पर हो रहे इस कार्यक्रम में सबसे बड़ा मजाक यह है कि कार्यक्रम के दौरान गौशाला की गायों को बाहर रखा जाएगा, जबकि गांव वालों की 4 से 5 गायों को गौशाला में बांधा जाएगा। जिससे प्रधानमंत्री मोदी को यह दिखाया जाए कि गौशाला में रहने वाली सभी गाऐं हष्टपुष्ठ हैं।


इनका कहना है 

पिछले कुछ दिनों से यहां की गौशाला के लिए एक कार्यक्रम आयोजित करने की तैयारी की जा रही है। जिसमें पिछले 5 से 7 दिन से गौशाला की समस्त गायों को गौशाला खाली करवाकर मंडी परिसर की बाउंड्री में बंद कर दिया गया है। जहां गौ माता भूखी मर रही हैं, जहां प्रधानमंत्री के 3 मिनट के कार्यक्रम के लिए पूरा प्रशासन लगा हुआ हैं। लाखों रुपए खर्च कर रहा है अभी गाय गौशाला में नहीं है इनको पास में ही मंडी परिसर में बंद कर रखा है  जिसके चलते 15 से 20 गायों की मौत हो गई है। उसका वीडियो हमारे पास मौजूद है।

-श्याम तेजरा, समाजसेवी, निवासी पिपलियाकुल्मी


मेरी जानकारी में आया है पिपलिया कुलमी में पीएम की जो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग होना है वह गौशाला में रखी गई है । गौशाला में जो गोवंश था उसे खींचकर हटाकर वहां कृषि मंडी में बंद किया गया है। इतनी क्रूरता से बंद किया है कि वहां 5 से 6 गोवंश गौ माता की मृत्यु हो चुकी है। गोवंश की रक्षा के नाम पर भारतीय जनता पार्टी के कथाकथित लोग मानव हत्या पर आ जाते हैं और यहां गोवंश की हत्या हुई है क्रूरता के कारण हुई है। इस पूरे प्रकरण की जांच की जाना चाहिए। हम कल माचलपुर थाने में ज्ञापन देकर इस पूरे घटनाक्रम की जांच की मांग करेंगे । 

-प्रियव्रत सिंह, महासचिव मप्र कांग्रेस