Breaking News
VIDEO: यशोधरा बोलीं..'मेहनत हमारी, वोट हाथी को' | सत्ता मद में चूर भाजपा सिंधिया के खिलाफ कर रही झूठा प्रचार : कांग्रेस विधायक | शिवराज की नजर में ..दिग्विजय 'देशद्रोही' की श्रेणी में | VIDEO : इंदौर महापौर बोली - निगम नही वसूलेगा केबल और डीटीएच पर मनोरंजन शुल्क | एमपी के इस गांव में मिले 25 कैंसर के मरीज, मचा हड़कंप | कारोबारी के यहां आयकर का छापा, 100 किलो सोना और 10 करोड़ कैश बरामद | एमपी में बेरोजगारों की फौज, 1700 पद के लिए डेढ़ लाख आवेदन | दर्दनाक हादसा : ओवरब्रिज से 20 फीट नीचे खेत में जा गिरी बस, एक की मौत, 40 घायल | अखिलेश का शिवराज पर हमला, MP में कही भी ऐसी सड़क नहीं जो अमेरिका से अच्छी हो | VIDEO : गोविंद गोयल के बयान पर बवाल, आपस मे भिड़े कांग्रेसी |

Whatsapp पर वायरल की झूठी पोस्ट, कांग्रेस नेता गिरफ्तार

रतलाम। सोशल मीडिया सूचनाओं के आदान प्रदान का सशक्त माध्यम बना है, लेकिन इसका उपयोग जनहित में न होकर बड़े बवाल का करना बन रहा है| पिछले दिनों हुए दलित आंदोलन में सोशल मीडिया से ही भड़काऊ मैसेज के बाद हिंसा भड़की थी| जिसकी इंटेलिजेंस ने भी पुष्टि की है| इसको लेकर अब पुलिस सख्त हो गई है| सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट और झूठी अफवाहों पर नजर रखी जा रही है और ऐसा करने वालों से सख्ती से निपटा जा रहा है| ऐसा ही एक मामला प्रदेश के रतलाम में सामने आया है| जहां एक कांग्रेस नेता को सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वाली पोस्ट डालना महंगा पड़ा है| पुलिस ने जावरा नगर पालिका के नेता प्रतिपक्ष तथा कांग्रेस नेता आरोपित मोहम्मद मुस्तकीम मंसूरी के खिलाफ भादंवि की धारा 188, 507 के तहत प्रकरण दर्ज कर उसे सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है|  इसके अलावा पिछले 15 दिनों में जिले में पुलिस सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में मंदसौर-जावरा के सांसद प्रतिनिधि आरोपित मोहन पटेल, सेवानिवृत्त पुलिसकर्मी फरीद खान सहित करीब आधा दर्जन लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज चुकी है, वहीं 19 लोगों को नोटिस जारी कर उनसे शपथ पत्र भरवाए गए हैं।

 दरअसल सोमवार को रतलाम जिले के नामली कस्बे में एक दुर्घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और तीन लोग घायल हुए थे। लेकिन कांग्रेस नेता मोहम्मद मुस्तकीम मंसूरी ने सोशल मीडिया पर 22 लोगों की मौत की खबर पोस्ट कर दी। यह पोस्ट जिले भर सहित कई जगह तेजी से वायरल हो गई और पुलिस प्रशासन तक भी यह पोस्ट पहुंची| जिसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने अमले को तुरंत मौके पर रवाना किया लेकिन वहां घटना के कोई सुराग नहीं मिले। इसके बाद खबर वायरल करने वाले व्यक्ति की तलाश शुरू हुई और नेताजी को दबोच लिया गया।

जानकारी के मुताबिक  नामली क्षेत्र में एक सड़क हादसा हुआ था, जिसमें एक व्यक्ति घायल हुआ था| लेकिन इस घटना से बिलकुल उलट मैसेज वायरल हुआ कि नामली में हाइवे के समीप खतरनाक दुर्घटना हुई है, जिसमें 22 लोगों की मौत हो गई है और 11 लोग गंभीर रूप से घायल है। उक्त मैसेज को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं, जिससे इनके परिजनों तक सूचना पहुंच जाए। जबकि इतनी बड़ी घटना आसपास भी नहीं हुई| यह मैसेज जब नामली थाना प्रभारी आरसी कोली के मोबाइल पर पहुंचा तो वे चौंक गए। जांच में सामने आया कि उक्त मोबाइल नंबर जावरा नगर पालिका में कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष व वार्ड क्रमांक ७ के पार्षद मोहम्मद मुस्तकीम का है। इसी आधार पर देर शाम को उसे गिरफ्तार कर आईटी एक्ट की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया|  

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...