खुरई विधानसभा क्षेत्र के लोगों को 2 जुलाई को मिलेगी बड़ी सौगात

सागर।  खुरई विधानसभा क्षेत्र के लोगों को सरकार बड़ी सौगात देने जा रही है| सागर जिले में स्वीकृत बीना संयुक्त सिंचाई एवं बहुउद्देशीय वृहद परियोजना के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक तथा संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार तथा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 2 जुलाई को खुरई में करेंगे। इस दिन यहां बड़ी सभा आयोजित की जाएगी, जिसे केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह सम्बोधित करेंगे| 

खुरई गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह का विधानसभा क्षेत्र है| उन्होंने क्षेत्रवासियों से अपील की है कि इस विशाल सौगात का जश्न मनाने 2 जुलाई को भूमिपूजन कार्यक्रम में सहभागी हों। खुरई स्थित नवीन कृषि उपजमंडी में कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण के बाद गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि 2 जुलाई को दोपहर 12 बजे केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक तथा संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार तथा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीना नदी परियोजना के निर्माण कार्यों का भूमिपूजन करेंगे। मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि खुरई विधानसभा क्षेत्र के लिए इस परियोजना से बड़ी और कोई सौगात नहीं हो सकती। केन्द्रीय मंत्री  विशेष उपस्थिति में 2 जुलाई को आयोजित भूमिपूजन का यह शुभ दिन खुरई विधानसभा क्षेत्र के लिए दीपावली मनाने का दिन है। मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने खुरई विधानसभा क्षेत्रवासियों से अपील की है कि इस विशाल सौगात का जश्न मनाने 2 जुलाई को भूमिपूजन कार्यक्रम में सहभागी हों।

 

90 हजार हेक्टेयर में होगी सिंचाई

बीना संयुक्त सिंचाई एवं बहुउद्देशीय वृहद परियोजना की लागत 3735.90 करोड़ रूपए है। इससे 90 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई प्रस्तावित है। परियोजना के अन्तर्गत वर्तमान में चकरपुर और मडिय़ा बांध का निर्माण कराया जाएगा। प्रस्तावित बांधों से खुरई तहसील में 42 हजार हेक्टेयर, मालथौन तहसील में 21 हजार हेक्टेयर, बीना तहसील में 17 हजार हेक्टेयर और राहतगढ़ तहसील में 10 हजार हेक्टेयर कमांड क्षेत्र सिंचाई के लिए प्रस्तावित है। मढिय़ा बांध से 21 मेगावाट जल विद्युत उत्पादन भी किया जाएगा। साथ ही पेयजल के लिए 40 मिलीघनमीटर पानी आरक्षित रहेगा। इसके साथ ही ग्राम उल्दन के समीप धसान नदी पर प्रस्तावित बण्डा सिंचाई परियोजना एवं कड़ान नदी परियोजना से मालथौन तहसील के शेष ग्रामों में सिंचाई सुविधा प्रदान की जावेगी। तीनों सिंचाई परियोजनाओं से आगामी 2-3 वर्षों में खुरई विधानसभा क्षेत्र शत् प्रतिषत सिंचित की श्रेणी में आ जाएगा। 

"To get the latest news update download tha app"