अब किसानों ने मांगी राष्ट्रपति से इच्छामृत्यु की अनुमति

सतना|  जिले के 200 से ज्यादा किसानों ने राष्ट्रपति को पत्र लिख इच्छामृत्यु की अनुमति देने की मांग की है। राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ से जुड़े इन किसानों का कहना है कि वे मुआवजे को बांटने में हो रही देरी और प्रशासन की हिंसात्मक रणनीति के कारण यह मांग कर रहे हैं ।यह सभी किसान जिले की मैहर और रामनगर तहसील के अंतर्गत आने वाले गांव में रहते हैं ।

दरअसल इन लोग लोगों के खेतों के पास जबलपुर विंध्याचल पावर लाइन की केबल लगाई गई है लेकिन कंपनी  न तो सरकार के निर्देशों का पालन कर रही है और ना उन्हें कोई मुआवजा दिया गया है। पहले ही मुआवजे की मांग करने वाले इनके जिला प्रमुख महान स्वरूप को मुआवजे की मांग करने के कारण धारा 151 में गिरफ्तार कर लिया गया था ।फिलहाल किसान कंपनी को काम नहीं करने दे रहे हैं और उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा कक्का जी उनके साथ खड़े नजर आ रहे हैं ।राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को  संबोधित इच्छा मृत्यु का आवेदन जिलाधीश को सौंपा गया है