Breaking News
स्वास्थ्य विभाग में मंत्री का आदेश रद्दी की टोकरी में | मोदी सरकार के 4 साल : बैलगाड़ी, ठेला अैर साइकिल पर सवार होकर कांग्रेस ने मनाया 'विश्वासघात दिवस' | मैं सेवा की ऐसी लकीर खींचूंगा, जिसे मेरे मरने के बाद भी मिटाया न जा सकेगा : शिवराज | पुलिसवाले के दोस्त ने युवतियों से की छेड़छाड़, चप्पलों से हुई पिटाई, खाकी पर उठे सवाल | बैतूल में आज एक और किसान ने की आत्महत्या, सड़क पर शव रख ग्रामीणों ने किया चक्काजाम | MP : मोदी सरकार के चार साल, कांग्रेस मना रही 'विश्वासघात' दिवस | विश्वासघात दिवस : कांग्रेस नेता ने गिनाई मोदी सरकार की 5 नाकामियां | VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल | VIDEO : विधायक ने 'हमसफ़र' को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, पहले दिन यात्री दिखें उत्साहित | 6 जून से पहले जिलों में जाकर किसानों को मनाएंगे मुख्यमंत्री  |

नवरात्रि पर रेलवे ने दी माँ के दरबार जाने वालों को बड़ी सौगात, 17 ट्रेनें रुकेंगी

सतना

कल 18 मार्च से चैत्र नवरात्रि शुरु हो रही है।हर साल की तरह इस साल भी इस नवरात्री में सतना जिले के मैहर मे माता का मेला भरने वाला है।हर साल इस मेले में लाखों श्रध्दालुओं के पहुंचते है।इसी के चलते यहां आने-जाने वाले श्रद्धालु यात्रियों की सुविधा के लिये रेल प्रशासन ने 16 मेल/एक्सप्रेस गाड़ियों को चलाने का फैसला लिया है। 15  दिन चलने वाले इस मेले के दौरान इन ट्रेनों का मैहर स्टेशन पर दो मिनट का अस्थाई रूप से ठहराव होगा।इसके अलावा रेल प्रशासन ने इस दौरान रीवा-जबलपुर-रीवा के बीच भी नवरात्रि के दौरान एक स्पेशल पैसिंजर ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है.

बता दे कि  कि  मध्य प्रदेश के सतना जिले में बना मैहर एक प्रसिद्ध तीर्थस्थल है। मैहर में शारदा मां का प्रसिद्ध मन्दिर है जो कैमूर तथा विंध्य की पर्वत श्रेणियों पर तमसा नदी के तट पर त्रिकूट पर्वत की पर्वत मालाओं के बीच 600 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। यह ऐतिहासिक मंदिर 108 शक्ति पीठों में से एक है। वैसे तो यहां प्रतिदिन हजारों दर्शनार्थी आते हैं किंतु वर्ष के दोनों नवरात्रों में यहां मेला लगता है जिसमें लाखों भक्‍तों की भीड़  मैहर आती है। इस स्‍थान पर मां शारदा के बगल में स्‍थापित नरसिंहदेव जी की पाषाण मूर्ति आज से लगभग 1500 वर्ष पुरानी है। यह कहा जाता है कि जब शिव मृत देवी का शरीर ले जा रहे थे, उनका हार इस जगह पर गिर गया और इसलिए नाम मैहर यानि माई का हार पड़ गया।

 

रुकने वाली ट्रेनों की सूची-

– लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस (18 से 30 मार्च)

– गाड़ी संख्या 11059 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-छपरा एक्सप्रेस (17 से 29 मार्च )

-छपरा-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस (19 से 31 मार्च)

– लोकमान्य तिलक टर्मिनस-फैजाबाद एक्सप्रेस (21 से 31 मार्च )

-फैजाबाद-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस (18 से 29 मार्च)

– लोकमान्य तिलक टर्मिनस-वाराणसी-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एक्सप्रेस (18 से 31 मार्च) 

– चेन्नई-छपरा एक्सप्रेस (17 से 26 मार्च )

--छपरा-चेन्नई एक्सप्रेस (19 से 28 मार्च )

– दुर्ग-गोरखपुर एक्सप्रेस (22 से 29 मार्च) 

--गोरखपुर-दुर्ग एक्सप्रेस (17 से 24 मार्च)

– दुर्ग-गोरखपुर एक्सप्रेस 21 से 30 मार्च

--गोरखपुर-दुर्ग एक्सप्रेस (18 से 30 मार्च)

– पुणे-गोरखपुर एक्सप्रेस (22 से 29 मार्च)

-गोरखपुर-पुणे एक्सप्रेस (17 से 24 मार्च)

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...