'प्यार' के लिए चोरी की, जब लड़की ने शादी से किया इंकार तो सिरफिरे आशिक ने फूंक दिए 5 लाख

सीहोर| 'प्यार अंधा होता है' यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी। लेकिन जब यह प्यार हासिल नहीं होता तो प्रेमी किसी भी हद तक जाने को तैयार हो जाता है, और कई बार रिजेक्शन का दुःख सनकी बना देता है और खुद का भी नुकसान करा देता है| ऐसा ही एक मामला सीहोर जिले में सामने आया है| जहां एक निजी फायनेंस कम्पनी के कैशियर ने लाखों रुपए निकालकर लड़की के पास पहुँच गया| लेकिन जब लड़की ने शादी से इंकार कर दिया तो इस सनक में कैशियर ने पांच लाख रुपयों में आग लगा दी। आग लगाई गई रकम में दो हजार, पांच सौ, दो सौ और सौ रुपए के नोट थे। कम्पनी के मैनेजर की शिकायत पर पुलिस ने कैशियर को गिरफ्तार कर लिया है। 

जानकारी के मुताबिक सीहोर जिले के नसरुल्लागंज में प्रायवेट माईक्रो फायनेंस कम्पनी स्पदंना स्फूर्ति कि शाखा नसरुल्लागंज का कर्मचारी जितेन्द्र गोयल दो दिन पहले आफिस मे रखा करीब 6  लाख 75 हजार रुपये लेकर फरार हो गया| कंपनी के मैनेजर की रिपोर्ट पर आरोपी जितेन्द निवासी चोकी,  जिला हरदा के खिलाफ अमानायत से खयानात का मामला दर्ज किया गया| पुलिस मामले की विवेचना कर रही थी कि तभी पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी खातेगांव क्षेत्र मे धूम रहा है | पुलिस ने मोके पर पहुँचकर आरोपी जीतेन्द्र को गिराफ्तार किया | 

जब पुछताछ की गई तो हैरान करने वाली कहानी सामने आई|  आरोपी ने बताया कि उसने चुराए पैसों मे आग लगा दी है ओर कुछ रुपये उसके घर मे रखे है| आरोपी अपनी भाभी कि बहन से प्यार करता है जिसकी आज शादी होने वाली थी, इसके लिए आरोपी काफी परेशान था ओर आपनी प्रेमिका के साथ घर से भाग कर शादी करना चाह रहा था| रुपए दिखाकर भागने के प्लान लड़की को बताया पर लडकी ने ऐसा करने से मनाकर दिया| इसी बात से निराश होकर कैशियर ने उसके पास रखे 5 लाख रुपयों में आग लगा दी। आग लगाई गई रकम में दो हजार, पांच सौ, दो सौ और सौ रुपए के नोट थे। उसके पास से 46 हजार रुपए भी बरामद किए हैं। साथ ही पंचनामा बनाकर अधजले नोट भी जब्त किए। इससे पहले उसने आत्महत्या की कोशिश भी की| पुलिस ने आरोपी को गिराफ्तार कर न्यायलाय मे पेश किया और जेल भेज दिया है| वहीं बताया जा रहा है कि नसरुल्लागंज उप जेल में इस सिरफिरे आशिक ने  फिर आत्महत्या की कोशिश की है| उसने पेड़ चढकर आत्महत्या की कोशिश की,  पेड़ पर से गिरने के कारण आरोपी को गम्भीर हालत मे भोपाल रैफर किया गया है|