Breaking News
इग्लैंड में अपना जलवा दिखाने पहुंचे 4 भारतीय दिव्यांग तैराक, इंग्लिश चैनल को करेंगें पार | VIDEO : केरवा कोठी पर भाजपा महिला मोर्चा का प्रदर्शन | सरकार की वादाखिलाफी से नाराज अध्यापकों ने फिर खोला मोर्चा, भोपाल में जंगी प्रदर्शन | NGT की सख्ती के बावजूद CM के गृह जिले में धड़ल्ले से हो रहा अवैध उत्खनन, 11 डंपर जब्त | भाजपा-कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, मानसून सत्र को लेकर होगी चर्चा | जब डॉक्टर के साथ मंत्री जी ने भी उठाया 70 लाख की कार से कचरा, देखें वीडियो | जानिये, जनसंपर्क ने कैसे कराई मोदी की एक साथ सोलह शहरों से बात | शिवराज सरकार ने उड़ाया PM के लाईव कार्यक्रम का मजाक, नपा कर्मचारी को हितग्राही बनाकर करवाई बात | प्रधानमंत्री का लाइव कार्यक्रम बना तमाशा | भाजपा सांसद ने कांग्रेस पार्षद को दी देख लेने की धमकी, देखे वीडियो |

MP की बेटी ने रोशन किया प्रदेश का नाम...माउंट एवरेस्ट फतह कर रचा इतिहास

सीहोर| मध्य प्रदेश की बेटी ने आसमान को चूम मध्य प्रदेश का नाम रोशन कर दिया है। सीहोर की मेघा परमार ने विश्व की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट को फतह कर लिया है ।बुधवार को 29029 फीट की ऊंचाई को फतह कर मेघा ने न केवल तिरंगा फहराया बल्कि सीहोर की मिट्टी और पत्थर भी माउंट एवरेस्ट की चोटी पर रख दिए। यह कारनामा करने वाली वह मध्य प्रदेश की पहली महिला है । एक छोटे से किसान परिवार में जन्मी मेघा का शुरू से ही जुनून था कि वह एवरेस्ट तक जरूर पहुंचेंगी और छूकर ही लौटेगी। तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद मेघा यह काम करने में सफल रही। मेघा ने अपनी इस सफलता के लिए उन्हें प्रेरित करने वाले मध्यप्रदेश के सीनियर आई  एस .आर. मोहंती और अपने ट्रेनर हर रत्नेश पांडे को बहुत धन्यवाद दिया है

मेघा ने जब अपने एवरेस्ट छूने की इच्छा अपने पिता दामोदर परमार को बताई थी तो उन्हें विश्वास ही नहीं हुआ था कि बेटी ऐसा कर सकती है ।फिर धीरे से मां को भी मनाया गया और बेटी ने की तैयारी शुरू की।  सीहोर से भोपाल तक साइकिल चला अपना वजन कम किया। शारीरिक रूप से खुद को फिट किया और फिर फंडिंग की  कवायद शुरू हुई। इस काम में सबसे ज्यादा मदद की आईएएस एस.आर. मोहंती ने और उन्होंने मेघा के जज्बे को पहचान कर 23 लाख रूपये जुटाने के लिए एक फंड बनाने का सुझाव दें मेघा की भरपूर मदद की।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...