Breaking News
इग्लैंड में अपना जलवा दिखाने पहुंचे 4 भारतीय दिव्यांग तैराक, इंग्लिश चैनल को करेंगें पार | VIDEO : केरवा कोठी पर भाजपा महिला मोर्चा का प्रदर्शन | सरकार की वादाखिलाफी से नाराज अध्यापकों ने फिर खोला मोर्चा, भोपाल में जंगी प्रदर्शन | NGT की सख्ती के बावजूद CM के गृह जिले में धड़ल्ले से हो रहा अवैध उत्खनन, 11 डंपर जब्त | भाजपा-कांग्रेस विधायक दल की बैठक आज, मानसून सत्र को लेकर होगी चर्चा | जब डॉक्टर के साथ मंत्री जी ने भी उठाया 70 लाख की कार से कचरा, देखें वीडियो | जानिये, जनसंपर्क ने कैसे कराई मोदी की एक साथ सोलह शहरों से बात | शिवराज सरकार ने उड़ाया PM के लाईव कार्यक्रम का मजाक, नपा कर्मचारी को हितग्राही बनाकर करवाई बात | प्रधानमंत्री का लाइव कार्यक्रम बना तमाशा | भाजपा सांसद ने कांग्रेस पार्षद को दी देख लेने की धमकी, देखे वीडियो |

VIDEO : बाप को जेल ले जा रही थी पुलिस, बेटियों ने जीप पर चढ़कर किया जमकर हंगामा

सीहोर।

धारा 250 के आरोपी को एसडीएम न्यायालय में पेश करने के बाद जेल ले जाते वक्त  आरोपी की बेटियों ने पुलिस वाहन को रोक लिया और वाहन पर जाकर बैठ गई। बेटियों ने कहा कि उनके पिता को जेल नहीं जाने देंगे, राजस्व अधिकारी की मिलिभगत से उनके पिता को जेल भेजकर एक व्यक्ति जमीन पर कब्जा करना चाहता है। पुलिस ने सख्त रवैया अपनाते हुए वाहन के सामने से ग्रामीण की बिटियों को हटाया और ताराचंद वर्मा को जेल पहुंचाया। 

बेटियों का कहना कहना था कि उनकी जमीन पर एक व्यक्ति जबरन कब्जा करना चाहता है। जिसमें राजस्व विभाग के अधिकारी कर्मचारी शामिल हैं जिनकी मद्द से मेरे पिता को जेल पहुंचाया जा रहा है जिससे वह आसानी से जमीन पर कब्जा कर लें। 

उलझावन ग्राम निवासी विनीता वर्मा और उसकी बहनों ने जमीन से जुडे एक मामले को लेकर सीहोर राजस्व अधिकारी-कर्मचारियों पर गंभीर आरोप लगाए। ताराचंद वर्मा की बेटी विनिता का कहना है कि ग्राम उलझावन में उनके पिता ने 6 एकड़ भूमि खरीदी थी जिस पर उनका कब्जा है और उस पर वह खेती भी करते हैं इस भूमि में एक कुआं भी है। मांगीलाल राय नामक एक व्यक्ति इस भूमि पर जबरन कब्जा करना चाहता है। जो आए दिन हमारे घर पर गुंडों को पहुंचाता है जो उन्हें डराते धमकाते हैं और जमीन छोडने की धमकी देते हैं। विनिता ने बताया कि वह 8 बहने हैं और उनकी मां भी नहीं है पिता को भी जेल भेज दिया है। 

ताराचंद के वकील धर्मेन्द्र प्रजापती का कहना है कि उनके पक्षकार को जेल पहुंचाया गया है। जब तक जमीन का बंटान नहीं होता उन्हें जेल से मुक्त करना चाहिए। इस संबंध में उनके द्वारा अपील प्रस्तुत की थी जिसका निराकरण नहीं हुआ है। प्रजापती का कहना है कि उनके पक्षकार ताराचंद द्वारा खसरा क्रमांक 1103,1108 में 6 एकड जमीन खरीदकर कुंआ खुदवाया था जिस पर वह खेती करते हैं। जबकि अजमत अली और मांगीलाल राय की जमीन खसरा 1098,1099 पर है। पटवारी और आरआई द्वारा नक्शे को बदला गया है। जिसके चलते यह सारा विवाद पैदा हुआ। 

पूरे मामले को लेकर सीहोर एसडीएम राजकुमार खत्री का कहना है कि ताराचंद द्वारा मांगीलाल राय की 1.50 एकड़ जमीन पर कब्जा कर रखा है जिसमें एक कुंआ भी है जो वह छोड नहीं रहा है। कब्जा हटाने की कार्रवाई की गई है। पूर्व में ताराचंद को नोटिस भेजा गया था लेकिन वह कब्जा छोडने को तैयार नहीं था इसलिए जेल की कार्रवाई की गई है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...