Breaking News
MP: वाजपेयी के निधन पर 7 दिन का राजकीय शोक, कल बंद रहेंगे सभी स्कूल-कॉलेज और सरकारी दफ्तर | पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन, देश भर में शोक की लहर | सपना चौधरी का नया वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल, भावुक हुए फैंस, पहली बार दिखा ऐसा अंदाज | सरकारी नौकरी : 10वीं-12वीं पास के लिए यहां निकली वैकेंसी, जल्द करे अप्लाई | अब जयवर्धन के लिए चुनावों में नहीं करूंगा प्रचार - दिग्विजय सिंह | अटल बिहारी वाजपेयी के यह 5 शानदार भाषण जो यादगार बन गए, देखिये वीडियो | MP : अटल जी की सलामती के लिए कांग्रेस नेता ने दरगाह पर चढ़ाई चादर, मांगी दुआ | MP को लेकर BJP का विजन, दूध का धंधा करो, पकौड़े तलो, पान की दुकान खोलो : सिंधिया | कलेक्टर की अनूठी पहल, महिला सफाईकर्मी के हाथों करवाया ध्वजारोहण | रेस्क्यू में मदद करने वाले होंगे सम्मानित, मिलेंगे 5 लाख, CM बोले-यह हैं सच्चे हीरो..दिग्विजय पर बरसे |

CM के जिले में नर्मदा को छलनी कर रहे रेत माफिया, कवरेज करने गए पत्रकार पर किया हमला

सीहोर। नर्मदा के संरक्षण के लिए सरकार कई अभियान चला रही है, नर्मदा यात्रा निकाली गई, कई आयोजन हुए, करोड़ों खर्च किये गए| इन सबके बावजूद प्रशासन की नाक के नीचे नर्मदा के सीने को रेत माफिया छलनी कर रहे हैं| सफेदपोश माफिया पर कोई आंच नहीं लेकिन, जब मीडिया कवरेज करने पहुँचती है तो उन पर हमला कर डराया धमकाया जाता है| यह सब हो रहा है नर्मदा संरक्षण की बात करने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के गृह जिले में|  बेखौफ रेतमाफिया मां नर्मदा की सूरत लगातार बिगाड़ रहा है और प्रशासन मौन दिख रहा है|  सरकार हर साल मानसून सक्रिय होते ही 15 जून से रेत की खनन पर रोक लगा देती है इसलिए माफिया भी हर साल की तरह इस साल भी बारिश से पहले स्टॉक करने अवैध तरीके से रेत निकाल रहा है । जैत से लेकर नसरुल्लागंज तक नर्मदा नदी में जगह-जगह गड्ढे रोड बना कर  इस कदर उत्खनन किया जा रहा है कि नदी के अंदर सड़के और गड्ढों का जाल बिछा दिया।

नर्मदा में बना दी सड़कें, टेंट लगाकर चल रही दुकानें 

रोजाना नर्मदा नदियों से हजारों डंपर रेत के निकालकर अवैध उत्खनन रेतमाफिया कर रहे हैं|  एमीपी ब्रेकिंग सवावदाता ने खदान के अंदर जाकर ग्राउंड रिपोर्ट की तो नर्मदा की दुर्दशा को देखकर दंग रह गए| हर जगह नर्मदा में 10 से 15 फीट गहरे गड्ढे कर दिए हैं | नर्मदा नदी में सड़कें बना डाली| नदी के सीने को छलनी कर रेत निकाली जा रही है। खास बात यह है डिमावर की खदान पर  नर्मदा नदी के बीचो-बीच टेंट लगाकर दुकान भी चलाई जा रही है|  जिसमें समोसा कचोरी पाउच सिगरेट तमाम चीजें उपलब्ध हैं  | यह भी एक चौका देने वाली बात ग्राउंड जीरो रिपोर्ट में देखने को मिली ।  घाट की हालत यह हो गई कि यहां पर रेतमाफिया ने इस तरह इसे खोदा कि अब रेत की जगह पत्थर दिखाई देने लगे हैं|  रेत को ट्रालियों में चलना लगाकर छाना जा रहा है  मगर प्रशासन मौन है| 


पत्रकार पर हमले की कोशिश 

बेखौफ रेतमाफिया नर्मदा को खत्म कर रहे हैं । वही रेत माफिया के हमले से आज युवा रिपोर्टर नितिन ठाकुर बाल बाल बचे|  संवावदाता नर्मदा नदी पर जब कवरेज करने पहुंचे तो उन्हे रेत माफियाओं ने घेर लिया ओर अभद्रता पूर्ण व्यवहार करने लगे | उन्होने नसरुल्लागंज के पत्रकार सुरेश जैमिनी को सारी स्थिती से अबगत कराया | जैमिनी ने तत्काल ग्रामीणो को भेजा तब कही जाकर बचाया जा सका | अन्यथा उनके साथ अनहोनी हो सकती थी ।रे त माफियाओं के इतने होंसले बुलन्द हो चुके है कि अब वह पत्रकारों को कवरेज करने से भी रोका जा रहा है और डराने धमकाने और हमला करने तक का प्रयास किया जा रहा है| 

गौरतलब है कि सरदारनगर, जैत,सनखेडा जोशीपुर जहाजपुरा छीपानेर नीलकंठ  बडगाव डिमावर मकौडिया,,सातदेव ,सहित एक दजन घाटो से रेत का गौरख धंधा जारी है ।