Breaking News
अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग |

शिवराज बोले- पहले अपने गिरेबान में झांके कांग्रेसी

सीहोर।

मुख्यमंत्री शिवराज आज बुधवार को सीहोर के अल्हदाखेड़ी में आयोजित मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना (संबल) के तहत आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे।यहां उन्होंने कांग्रेस पर ग़रीबी को लेकर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि  कांग्रेस ग़रीबी हराएँगे , ग़रीबी हराएँगे, कहते-कहते केवल ग़रीबों का शोषण करते रही।  लेकिन मैंने ग़रीबी हटाने का संकल्प लिया है और मैं यह काम पूरा करके दिखाऊँगा।उन्होंने कहा कि  मुझे कहते हैं किसान विरोधी लेकिन कांग्रेसी पहले अपने गिरेबान में झांककर देखें। कांग्रेसियों ने प्रदेश को बर्बाद कर दिया और आरोप भाजपा पर लगाते हैं। ये मुझे गाली देंगे, जिन्होंने देश बर्बाद किया।  ये अंग्रेजो के ग़ुलाम हैं, जिन्हें प्रदेश की सड़कें अच्छी नज़र नहीं आती। 

उन्होंने कहा कि  टाटा, बिडला और अंबानी जैसे धनवानों से टैक्स लेकर ग़रीबों को सस्ता अनाज और सामान देंगे। सम्बल योजना ग़रीबों का सहारा बनेगी। ग़रीबों को बेघर नहीं रहने दिया जाएगा।  ग़रीबों की लड़ाई शिवराज लड़ेंगे। जुलाई, अगस्त में बिजली के कैम्प लगेंगे, वहाँ जाना और बोलना हमें बिल नहीं भरना है। बिल हमारा शिवराज मामा भरेगा। हर महीने 200 रुपये में आप टीवी, पंखा चलाना। उन्होंने कहा कि कुछ लोग ग़रीबों को भी धर्म और जातियों में बाँट रहे हैं, लेकिन मेरी लोगों से अपील है कि ऐसे लोगों के बहकावे में नहीं आए।कुछ लोग आंदोलन करते हैं अपनी मांगें गलत ढंग से मनवाने की कोशिश करते हैं। लेकिन गरीबों के कल्याण को मैंने आंदोलन बना दिया है। अब हर गरीब को उनका हक मिलेगा, कोई भी गरीब या मजदूर मजबूर नहीं रहेगा।

उन्होंने कहा कि बचपन में गरीब के कठिन जीवन को देखकर मन भावुक हो जाता था कि आखिर इन्हें कब संबल मिलेगा। आज ये बताते हुए मन आनंदित है कि गरीब भाई-बहनों के लिए मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना (संबल) शुरू की है, जिससे आप के जीवन में बड़ा बदलाव आएगा।दुनिया में केवल कुछ ही लोगों ने प्राकृतिक संसाधनों पर कब्जा कर लिया, वे अमीर होते गए बाकी गरीब होते गए। मुझे इस अमीरी-गरीबी के बीच की खाई को हटाना है यही मेरा संकल्प है और मैं यह करके रहूँगा। भगवान ने ये धरती, पानी, जंगल और अन्य सभी संसाधन सभी के लिए बनाई, लेकिन कुछ लोग अमीर होते गए और बाकी गरीब होते गए।  संबल योजना के माध्यम से अमीरी-गरीबी की खाई पाट रहे हैं। अमीर से टैक्स लेकर गरीब भाई-बहनों को सुविधाएं दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि  हर बच्चे में प्रतिभा है, पढ़ने का हक केवल अमीरों के बच्चों को ही नहीं है। लेकिन गरीब बच्चे पैसे के अभाव में शिक्षा से वंचित रह जाते हैं। अब मध्यप्रदेश में ये नहीं होगा। गरीब के बच्चों की पहली से ले कर उच्च शिक्षा तक की फीस संबल के तहत  सरकार भरेगी।  संबल के तहत बच्चों की पहली कक्षा से लेकर पीएचडी तक की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाएगी।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...