Breaking News
किसान आंदोलन की आहट से सरकार की नींद उड़ी, प्रदेश में हाई अलर्ट, पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द | अध्यापकों के तबादलों से रोक हटी, आदेश जारी | राहुल गांधी की सभा की अनुमति को लेकर बैकफुट पर प्रशासन, बदली शर्ते | किसान और जनता के घरो में डाका डाल रही सरकार : अजय सिंह | शराब दुकानों को लेकर आमने-सामने हुए दो विभाग | सहकारी बैंक का जीएम 50 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया | कम नहीं होगा पेट्रोल-डीजल पर वैट : वित्तमंत्री मलैया | VIDEO : मप्र कोटवार संघ की सरकार को चेतावनी- मांगे पूरी नहीं हुई तो कांग्रेस को देंगें समर्थन | VIDEO : बाप को जेल ले जा रही थी पुलिस, बेटियों ने जीप पर चढ़कर किया जमकर हंगामा | एमपी टूरिज्म के रिसॉर्ट में तेंदुए का टेरर..देखिये वीडियो |

CM शिवराज बोले, बाजार से 2 हजार रुपए के नोट गायब होना भी 'षड्यंत्र'

शाजापुर।  किसान महासम्मेलन के बहाने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर जमकर हमले बोले| इस दौरान उन्होंने कहा कांग्रेस की सरकार ने कभी किसानों को कुछ नहीं दिया। कांग्रेस की कलश यात्रा पर निशाना साधते हुए सीएम ने कहा कि  ये कांग्रेसी आज सत्ता हथियाने के लिए माहौल खराब कर रहे हैं। किसानों में असंतोष फैलाकर आग लगा रहे हैं। कांग्रेसी हिंसा भड़काना चाहते हैं, क्योंकि कांग्रेस लाशों की राजनीति कर रही है। इस दौरान सीएम ने एक और महत्त्वपूर्ण मुद्दे पर प्रकाश डाला| सीएम ने कहा आज प्रदेश में नगदी की कमी पैदा की जा रही है, इससे राज्य सरकार निपटेगी। कांग्रेस प्रदेश में आग लगाना और दंगे फैलाना चाहती है। कांग्रेस के इस षड्यंत्र को कामयाब नहीं होने दूंगा। बाजारों से 2 हजार रुपए के नोट गायब होना भी षड्यंत्र है। केंद्र व प्रदेश सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।  उल्लेखनीय है कि किसानों को न्याय दिलाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह न्याय कलश यात्रा निकाल रहे हैं।

चौहान ने कृषक समृद्धि योजना का शुभारंभ करने के बाद यहां किसान महासम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब नोटबंदी हुई थी, तब 15 लाख करोड़ रूपये के नोट बाजार में थे और आज साढ़े सोलह लाख करोड़ के नोट छापकर बाजार में भेजे गए हैं| उन्होंने कहा कि लेकिन दो-दो हजार के नोट कहां जा रहे हैं, कौन दबाकर रख रहा है, कौन नकदी की कमी पैदा कर रहा है. यह षडयंत्र है. चौहान ने कहा कि यह षडयंत्र इसलिए किया जा रहा है, ताकि दिक्कतें पैदा हो| 

मुख्यमंत्री ने कहा है कि किसानों को उनके पसीने की पूरी कीमत दिलाने के लिये मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना लागू की गई है। इसमें समर्थन मूल्य पर अथवा उससे अधिक मूल्य पर गेहूँ बिकने पर 265 रूपये प्रति क्विंटल, चना, मसूर, सरसों पर 100 रूपये प्रति क्विंटल तथा लहसुन पर 800 रूपये प्रति क्विंटल किसान के खाते में डाले जायेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज शाजापुर में किसान महासम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में 10 लाख 21 हजार किसानों के बैंक खातों में 1669 करोड़ रूपये ऑनलाईन डाले गये। यह प्रोत्साहन राशि गेहूँ उपार्जन वर्ष 2016-17 और धान उपार्जन वर्ष 2017 पर 200 रूपये प्रति क्विंटल की दर से दी गयी।


कांग्रेस में दो-ढाई हजार मिलता था, हमने 30 हजार प्रति एकड़ दिया 

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कि किसानों को सुविधाएँ देने में कोई कोर-कसर बाकी नहीं रखी जायेगी। जो किसानों ने भी नहीं सोचा, वह भी सरकार कर रही है। उन्होंने जनता को याद दिलाते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय किसानों को 18 प्रतिशत ब्याज पर ऋण मिलता था, जिसे घटाकर शून्य प्रतिशत कर दिया गया है। खाद के अग्रिम भंडारण पर ब्याज राज्य सरकार द्वारा दिया जाता है। प्राकृतिक आपदा में दी जाने वाली राहत राशि पहले ढाई हजार रूपये प्रति हेक्टयर थी, जिसे बढ़ाकर 30 हजार रूपये प्रति हेक्टयर कर दिया गया है। एक वर्ष में किसानों को 18 हजार करोड़ रूपये की राहत दी गई है। प्याज के दाम गिरने पर राज्य सरकार द्वारा 800 रूपये प्रति क्विंटल के भाव पर प्याज खरीदी पर 650 करोड़ रूपये खर्च किये गये। सिंचाई की क्षमता प्रदेश में साढ़े सात लाख हेक्टयर से बढ़ाकर चालीस लाख हेक्टयर कर दी गयी है। सिंचाई के लिये बिजली की समुचित व्यवस्था की गई है। खेती को फायदे का धंधा बनाने के लिये राज्य सरकार द्वारा हर-संभव प्रयास किये जा रहे हैं।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...