Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

जनसुनवाई में पेट्रोल की बोतल लेकर आत्मदाह करने पहुंचा युवक, मचा हड़कंप

शाजापुर

मध्यप्रदेश के शाजापुर जिले में आज मंगलवार को कलेक्टर जनसुनवाई के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक शख्स पेट्रोल की बोतल लेकर आत्महत्या करने पहुंचा।जैसे ही अधिकारियों की नजर उस पर गई तो उन्होंने बोतल उससे छीन ली और एसडीएम के कैबिन में पूछताछ के लिए ले गए। जहां एसडीएम ने उससे उसकी समस्या पूछी और जल्द से जल्द जांच करने का आश्वासन दिया।

जानकारी के अनुसार, जिले के ग्राम लड़ावद निवासी विष्णु प्रसाद ने साल 2017 में अंत्यावसाई विभाग से स्वरोजगार योजना के तहत साड़ी का बिजनेस शुरू करना चाहता था। इसके लिए उसने   पंजाब नेशनल बैंक में 3 लाख रुपए का लोन लेने के लिए एक आवेदन दिया था।इस आवेदन को बैंक तक पहुंचने के लिए एजेंट बंटी उर्फ बसंत वर्मा ने उससे रिश्वत की मांग की थी। जिस पर विष्णु ने अपनी दो बकरियां बेचकर उसे  रिश्वत के तौर पर  32000 हजार रुपये दिए।सा बीत जाने के बाद भी जब उसे लोन नहीं मिला तो वह बैंक की शाखा पहुंचा, जहां उसे बताया गया कि उसके लोन की एक किस्त  1,10,000  तो पहले ही जारी कर दी गई है।लेकिन विष्णु प्रसाद ने बैंक को बताया कि उसे तो कोई किश्त की राशि नहीं मिली है।वही बैंक अब उससे लोन की किस्त जमा करने के लिए दबाव बना रहा है।परेशान होकर विष्णु ने चार इसकी शिकायत जनसुनवाई में कि बैंक के मैनेजर और एजेंट उस पर जबरन थोपे गए लोन की किश्त भरने के लिए दबाव बना रहे है।

जब इस मामले की जानकारी एलडीएम के पास भी पहुंची तो उन्होंने 2 बार जांच की।इसके बावजूद जब कुछ सार नहीं निकला तो  विष्णु प्रसाद आज मंगलवार को जनसुनवाई मेंअपने साथ पेट्रोल की बोतल लेकर आत्मदाह करने के इरादे से पहुंचा।  लेकिन वह कुछ कर पाता इसके पहले ही अधिकारियों की नजर विष्णु प्रसाद पर पड़ी तो उन्होंने तुरंत उससे बोतल छीन ली। इसके बाद एसडीएम ने विष्णु प्रसाद को अपने कक्ष में ले जाकर मामले की विस्तृत जानकारी लेकर उसके बयान दर्ज करवाएं । इस मामले में एसडीएम ने अंतव्यवसाई विभाग के अधिकारी एवं एलडीएम से भी चर्चा की।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...