किसानो के आगे झुका प्रशासन, कलेक्टर के आश्वासन के बाद 31वें दिन किया अनशन खत्म

श्योपुर

मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले में बीते कई दिनों से चेंटीखेड़ा डैम की मांग लेकर धरना और अनशन पर बैठे किसानों ने आंदोलन खत्म कर दिया है।कलेक्टर औऱ भाजपा नेता के आश्वासन के बाद किसानों ने अनशन को खत्म किया। कलेक्टर ने गुरुवार देर शाम किसानों को जूस पिलाकर ये अनशन खत्म करवाया। वही उनकी मांगों को पूरा करने का भी आश्वासन दिया।

बता दे कि इस बांध के लिए दो गांव पूर्णत: और 5 गांव आंशिक तौर पर विस्थापित किए जाने हैं, जिनमें 1264 परिवार शामिल हैं।

जानकारी के अनुसार, 90 गांव के किसान चेंटीखेड़ा डैम को स्वीकृति दिए जाने की मांग लेकर 14 फरवरी से विजयपुर जनपद के बाहर धरना दे रहे थे। इसके बाद 15 दिन पहले उसमें से 16 किसानों ने अनशन शुरू कर दिया था।  इस हड़ताल के चलते किसानों की तबीयत बिगड़ने लगी थी। गुरुवार देर शाम कलेक्टर पन्नालाल सोलंकी और भाजपा जिला अध्यक्ष अशोक गर्ग गुरुवार को विजयपुर पहुंचे औऱ किसानों को आश्वासन दिया कि सिंचाई मंत्री ने अप्रैल महीने में पेश होने वाले सिंचाई विभाग के बजट में चेंटीखेड़ा बांध को स्वीकृति देने की बात कही है।इसे लेकर उन्होंने पीएस मध्य प्रदेश शासन को पत्र भी लिख दिया है। राज्य शासन के सिंचाई मंत्री द्वारा विधानसभा में दी गई जानकारी के अनुसार शासन से स्वीकृति आते ही इसे मंजूरी प्रदान कर दी जाएगी। इसके बाद उन्होंने धरने और अनशन पर बैठे अनशनकारियों को जूस पिला कर उनके अनशन को समाप्त करवाया।