Breaking News
दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग | राहुल के भोपाल दौरे पर वीडियो वार..'कांग्रेस हल है या समस्या' |

रूस्तम के विवादित बोल..अनलिमिटेड डिमांड्स, देखिये वीडियो

 शिवपुरी

हमेशा अपने बयानों से सुर्खियां बटोरने वाले प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री रुस्तम सिंह ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। इस बार उन्होंने किसानों को लेकर विवादित बयान दिया है। जिसके बाद से मंत्री के बयान के चारों तरफ से निंदा हो रही है। चुंकी अभी प्रदेश में किसान आंदोलन चल रहा है , ऐसे में विपक्ष ने मुद्दे को लपकते हुए सरकार पर हमले करना शुरु कर दिया है।

दरअसल, प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री और शिवपुरी के प्रदेश प्रभारी आज मोदी सरकार के चार साल की उपलब्धियां गिनाने सर्किट हाउस में मीडिया से रुबरु हुए थे, जहां उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जिन किसानों को  भगवान का दर्जा देते है उन किसानों को जिद्दी बेटा ओर सरकार को बाप बता दिया। वही किसान आंदोलन को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आप अपने बेटे को गाड़ी दो तो वह बड़ी गाड़ी मांगेगा, और जब बड़ी गाड़ी दोगे तो वह मर्सडीज मांगेगा । वैसे भी हक की बात वह लोग कर रहे है जिन्होंने जिंदगी में कुछ किया ही नही है ।

गौरतलब है कि प्रदेश में किसान आंदोलन चल रहा है।इधर सरकार किसानों को मनाने में हर संभव प्रयास कर रही है वही दूसरी तरफ उन्हीं के मंत्री विवादित बयान देने से नही चूक रहे है। किसान आंदोलन के बीच में मंत्री का ये बयान आग में घी का काम कर सकता है, जो आने वाले चुनाव में सरकार के लिए सबब बन सकता है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...