सरकार के दावों की खुली पोल, पहली बारिश में बहा 'पोहरी वाला पुल', मई में हुआ था लोकार्पण

शिवपुरी ।

बारिश किसी के लिए राहत तो किसी के लिए आफत बन रही है। सरकार के तमाम दावों के बाद भी बारिश आने पर कुनो नदी पर बना नवनिर्मित पुल क्षतिग्रस्त हो गया, जिसके कारण सड़कें पानी से जलमग्न हो गई और श्योपुर का ग्वालियर-शिवपुरी से संपर्क टुटा । पुल के टूटने के बाद बारिश के कारण अब सरकार के बड़े बड़े दावों पर सवाल खड़े होने लगे है।खबर है कि  पुल का तीन माह पहले ही लोकार्पण हुआ था। इसकी लागत करीब 8 करोड़ के आसपास थी।

दरअसल, शनिवार को  छर्च के ग्राम इंदुरखी में कूनो नदी पर बनाया गया आठ करोड़ की लागत का पुल कूनो नदी के पानी का उफान नहीं झेल पाया और वह भरभरा कर ढह गया। इसका लोकार्पण मई में केंद्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा किया था।मंत्री ने इसे शिवपुरी जिले की पोहरी विधानसभा में विकास का प्रतीक बताया गया था लेकिन सितम्बर के दूसरे सप्ताह तक भी नहीं टिक पाया। इसके निर्माण को लेकर पोहरी विधायक प्रहलाद भारती ने शिकायत भी की थी कि इस पुल का निर्माण घटिया स्तर का किया जा रहा है लेकिन अधिकारियों ने इस पर ध्यान नही दिया और शनिवार को पुल ने सरकार के दावों की सारी पोल खोल कर रख दी। घटना के बाद सरकार के माथे पर चिंता की लकीरें उभर आई है, चुनावी साल में सरकार अपने ही कारनामों को लेकर घिरती नजर आ रही है।


"To get the latest news update download tha app"