Breaking News
जूडा का अनोखा विरोध, MYH के सामने लगाई समानांतर ओपीडी | संगठन नहीं शिवराज के चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगी भाजपा | अटकलों पर लगा विराम, किसी भी कीमत पर नही बिकेगा किशोर कुमार का पुश्तैनी घर | अंतर्राज्यीय चंदन तस्कर गिरोह का पर्दाफाश, वर्दी का रौब दिखाकर करते थे तस्करी | शर्मनाक : 4 साल की मासूम से दुष्कर्म की कोशिश, आइसक्रीम का लालच देकर ले गया था आरोपी | दर्दनाक हादसा : स्कूल जा रहे बच्चों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत, | नपा के खिलाफ ठेकेदार ने शुरु की लोटन यात्रा, CMO बोले- नही मिलेगा एक भी पैसा | VIDEO : सरकार के खिलाफ कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, आम चूसकर गुठलियां फेंकी | शिवराज जी, आप चिंता छोड़ जनआशीर्वाद यात्रा निकाले, मैं जनता को बताउंगा सच्चाई : कमलनाथ | आज से जूडा का आंदोलन शुरु, मांगे पूरी ना होने पर दी हड़ताल की चेतावनी |

MP : दूषित खाना खाने से 22 छात्राओं की तबीयत बिगड़ी, मचा हड़कंप

सीधी।

मध्यप्रदेश के सीधी जिले में आज शुक्रवार को नर्सिंग कॉलेज में पढ़ने वाली दो दर्जन छात्राएं छात्रावास के दूषित खाना खाने से बीमार हो गई। बताया जा रहा है कि छात्रावास में बनने वाले खाने में  कोई जहरीला कीड़ा गिर गया था, वाबजूद इसके छात्राओं को खाना परोस दिया गया और वे बीमार हो गई। छात्रावास जिला अस्पताल परिसर में संचालित नर्सिंग कॉलेज द्वारा ही संचालित किया जाता है।छात्रों की तबीयत खराब होने पर उन्हें अस्पताल मे भर्ती करवाया गया है,जहां उनका इलाज जारी है। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई औऱ मामले की जांच की जा रही है। हालांकि प्रबंधन इस मामले को दबाने में जुटा हुआ है।

दरअसल, नर्सिंग कॉलेज का छात्रावास भवन न बनने के कारण यहां अध्ययनरत करीब दो सैकड़ा छात्राएं विभाग द्वारा शहर के उत्तरी करौंदिया कॉलेज स्टेडियम मार्ग में लिए गए एक निजी भवन में रहती हैं। रोजमर्रा की तरह आज भी छात्राओं को सुबह 7 बजे नास्ता औऱ कॉलेज के लिए टिफिन दिया गया, जैसे ही छात्राओं ने खाना खाया उसके थोड़ी देर बाद उसमें से कईयो को चक्कर आने लगे, उल्टियां होने लगी। देखते ही देखते छात्राओं की तबीयत बिगडने लगे तो छात्रावास में हड़कंप मच गया। शोर सुनते बाकी की छात्राएं बाहर आ गई औऱ छात्राओं को इलाज के लिए जिला अस्पताल में ले गई। कुछ छात्राओं द्वारा जब वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई तो उन्होंने जांच की बात कही। खाना चेक किया गया तो दाल में जहरीला कीड़ा कनखजूरा निकला।करीब 22 छात्राओं ने यह भोजन किया था, जिसमें से 10 छात्राओं के तबियत में सुधार आने पर उन्हे छुट्टी दे दी गई, जबकि 12 की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है।घटना की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ एसडीएम , तहसीलदार जिला अस्पताल पहुंचे औऱ छात्राओं का हाल जाना। फिलहाल पुलिस द्वारा मामले की जांच की रही है। हालांकि प्रबंधन इस मामले को दबाने में जुटा हुआ है।

बता दे कि  यहां छात्राओं को भोजन की जिम्मेदारी विभाग द्वारा टेंडर पर सर्वोदय कल्याण समिति भोपाल को सौंपी गई है, जो पिछले करीब एक वर्ष से छात्राओं के लिए भोजन व नास्ते की जिम्मेदारी उठा रहा है। भोजन के एवज में प्रति छात्रा विभाग द्वारा पचास रुपए लिए जाते हैं। हालांकि सर्वोदय कल्याण समिति भोपाल की समय सीमा समाप्त हो चुकी है, जिसके चलते पिछले सप्ताह ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा निविदा आमंत्रित की गई थी।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...