Breaking News
विधानसभा का आखिरी सत्र कल से, 5 दिवसीय सत्र में पूछे जाएंगे 1376 सवाल | मानसून सत्र: सरकार को घेरने विपक्ष की रणनीति तैयार, PCC चीफ बोले- 5 साल का हिसाब मांगेंगे | ग्रामीण से रिश्वत लेते रोजगार सहायक कैमरे में कैद, वीडियो हुआ वायरल | जब आदिवासियों संग मांदल की थाप पर थिरके शिवराज, देखें वीडियो | MP : कांग्रेस में 3 नई समितियों का गठन, चुनाव घोषणा पत्र में कर्मचारी नेता को मिली जगह | BIG SCAM : PNB के बाद एक और बैंक में घोटाला, तीन अधिकारी सस्पेंड | IPS ने बताया डंडे के फंडे से कैसे होगा पुलिसवालों का TENSION दूर! | कपड़े दिलाने के बहाने किया मासूम को अगवा, बेचने से पहले पुलिस ने रंगेहाथों पकड़ा | इग्लैंड में अपना जलवा दिखाने पहुंचे 4 भारतीय दिव्यांग तैराक, इंग्लिश चैनल को करेंगें पार | VIDEO : केरवा कोठी पर भाजपा महिला मोर्चा का प्रदर्शन |

सिंगरौली महोत्सव मनाया, तो सड़कों पर उतरेंगे युवक कांग्रेस के कार्यकर्ता

सिंगरौली| राघवेंद्र सिंह| सिंगरौली महोत्सव  सिंगरौली जिले की आम जनता के साथ एक मजाक है अंग्रेजों के शासन में जिस प्रकार से भारत के खजाने को  अंग्रेजों द्वारा लुटाया जाता था  और  भारत का गरीब आदमी एक रोटी के लिए वंचित रहता था  आज वही दशा भारतीय जनता पार्टी की सरकार में सिंगरौली जिले में है सरकार के खजाने से करोड़ों रुपए खर्च करके अपने पसंदीदा कलाकारों को 20 से 25 लाख रुपए खर्च करके सिर्फ अधिकारियों और भाजपा के नेताओं के मनोरंजन के लिए यह महोत्सव  मनाया जाता है जिसमें लगभग करोड़ों रुपए हर वर्ष खर्च हो रहे हैं जबकि इस महोत्सव से वास्तव में सिंगरौली के आम जनमानस से कोई सरोकार नहीं है| यह कहना है प्रवीण सिंह चौहान जिला प्रभारी युवक कांग्रेस का| 

उन्होंने कहा है आज सिंगरौली भारत के तीसरी पिछड़े जिले के पायदान पर खड़ा है क्या भारतीय जनता पार्टी के नेता और यह अधिकारी इस बात का महोत्सव मनाने की तैयारी कर रहे हैं जिस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी की सरकार में इन 15 वर्षों में सिंगरौली जिले का सिंगरौली की जनता का शोषण हुआ है महज दो 4 किलो गुड़ बाट कर ना तो कुपोषण दूर होगा ना ही बेरोजगारी दूर होगी और ना ही इस जिले का पिछड़ापन जाएगा सिंगरौली महोत्सव में कई वर्षों से यह देखने को मिल रहा है कि मंच सजे होते हैं और उसमें सिर्फ और सिर्फ अधिकारी और भारतीय जनता पार्टी के चंद नेता शिरकत करते हैं उस मंच की शोभा और बढ़ती यदि सिंगरौली जिले का आम आदमी उस मंच पर बैठता और यह भारतीय जनता पार्टी के नेता और अधिकारी नीचे दरी पर बैठकर महोत्सव का आनंद लेते हैं लेकिन वह आम आदमी इस महोत्सव से और उत्साह से कोसों दूर है जहा सिंगरौली का युवा बेरोजगारी के लिए दर-दर भटक रहा है पूरे जिले में दर्जनों हैंडपंप  सूखे पड़े हैं भारी भरकम बिल के बोझ तले किसान दबा हुआ है ऐसे में यदि सिंगरौली में अधिकारियों और भाजपा के चंद नेताओं द्वारा महोत्सव मनाया गया  तो युवक कांग्रेस सड़कों पर उतर करके इसका विरोध करेगी

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...