दीपिका कुमारी ने रचा इतिहास, 6 साल बाद भारत को दिलाया वर्ल्ड कप में गोल्ड

नई दिल्ली।

भारत की तीरंदाज दीपिका कुमारी ने एक बार फिर इतिहास रचकर देश-विदेश में भारत का मान बढ़ाया है। दीपिका ने फाइनल में जर्मनी की मिशेली क्रोपेन को 7-3 से हराया और इस तरह से छह साल बाद विश्व कप में स्वर्ण पदक जीता।दीपिका ने सॉल्ट लेक में चल रहे तीरंदाजी विश्व कप में गोल्ड मेडल जीता है। दीपिका ने इससे पहले अंताल्या में 2012 में खिताबी जीत हासिल की थी। उन्होंने कहा, 'जब मैंने यह स्वर्ण पदक जीता, तो मैंने यही कहा आखिरकार मैं सफल रही।'

    दीपिका ने कहा, ‘मैं बार-बार अपने आप से कह रही थी कि अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करो। अपने खेल का लुत्फ उठाओ और जीत या हार को भूल जाओ।’ चीनी ताइपेई की तान या तिंग ने महिला रिकर्व का कांस्य पदक जीता। दीपिका को हालांकि रिकर्व मिश्रित युगल में निराशा हाथ लगी। उनकी और अतनु दास की जोड़ी कांस्य पदक के प्लेऑफ मैच में चीनी ताइपेई की तांग चीह चुन और तान या तिंग से 4-5 से हार गई।

बता दे कि विश्व कप फाइनल में चार बार की सिल्वर मेडल विजेता (2011, 2012, 2013 और 2015) ने इस जीत से तुर्की के सैमसन में होने वाले तीरंदाजी विश्व कप फाइनल के लिए अपने आप ही क्वालिफाई कर दिया।सत्र की आखिरी प्रतियोगिता में वह सातवीं बार देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।


"To get the latest news update download the app"