एशियाई खेलों में मप्र की बेटी ने लहराया परचम, 12 साल बाद सेलिंग में जीता ब्रॉन्ज

भोपाल।

18वें एशियाई खेलों का आज 13वां दिन है। इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबर्ग में चल रहे 18वें एशियन गेम्स में भारतीय खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन जारी है।वही मध्यप्रदेश की बेटी ने एक बार फिर देश में इतिहास रचा है। एमपी की हर्षिता तोमर ने ओपन लेजर 4.7 स्पर्धा में ब्रॉन्ज जीता है।करीब 12  साल बाद मप्र की झोली में सेलिंग में कांस्य पदकर गिरा है, आज से 12 साल पहले हर्षिता के  कोच जी एल यादव ने सिल्वर मेडल जीता था।ओपन लेजर 4.7 इवेंट में हर्षिता ने 74 अंक और कुल 62 अंक बनाए।

खास बात ये है कि हर्षिता पहले ही कांस्य पदक पक्का कर चुकी थीं। आज सिल्वर मैडल के लिए उनका मुकाबला था। 16 साल की हर्षिता पिछले 4 साल से भोपाल की बड़ी झील में सेलिंग की प्रैक्टिस कर रही थीं। यह मप्र के लिए इस एशियाड और ओवर आल सेलिंग में दूसरा पदक है।हर्षिता अपने कोच जी एल यादव के बाद सेलिंग में प्रदेश की दूसरी पदक विजेता हैं। 12 साल पहले  यादव ने  2006 में  सिलवर मेडल जीता था। वे एशियाड में पदक जीतने वाली मध्यप्रदेश की सबसे युवा खिलाड़ी हैं। 

बता दे कि हर्षिता से पहले इसी हफ़्ते जबलपुर की मुस्कान किरार ने कंपाउंड आर्चरी में अपनी टीम के साथ सिल्वर मेडल जीता था।भारत की पदकों की संख्या 62 हो गई है। भारत अब तक 13 गोल्ड, 22 सिल्वर और 27 कांस्य पदक अपने नाम कर चुका है।