Whatsapp को टक्कर देने आया पतंजलि का 'किंभो ऐप', 24 घंटे के भीतर ही प्ले स्टोर से हुआ गायब

नई दिल्ली| स्वदेशी चीजों को अपनाने के लिए देश के लोगों को प्रेरित करने वाले योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड ने अब दुनिया में सबसे ज्यादा पॉपुलर इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप को टक्कर देने 'किंभो' मोबाइल एप लॉन्च किया है।  हालांकि, शुरुआत से ही यह विवादों में है, वहीं किंभो में पाकिस्तानी एक्ट्रेस और मॉडल मावरा होकेन की तस्वीरों का इस्तेमाल किए जाने पर यूजर्स ने पतंजलि को ट्विटर पर ट्रोल भी किया। 

बुधवार देर शाम एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर लाए गए Kimbho App को कई जानकारों ने असुरक्षित बताया है। एलियट एंडरसन नाम के एक फ्रेंच सिक्योरिटी रिसर्चर ने तो इस ऐप को सिक्योरिटी के नाम पर मज़ाक बताया है। इस ऐप को एंड्रॉयड के ऐप मार्केट प्लेटफॉर्म गूगल प्ले से हटा भी लिया गया है, लेकिन यह ऐप्पल ऐप स्टोर पर अब भी डाउनलोड के लिए उपलब्ध है।   पतंजलि के प्रवक्ता तिजारावाला ने दावा किया था कि ये स्वदेशी मेसेजिंग ऐप WhatsApp को कड़ी टक्कर देगा. हालांकि अभी इसे गूगल प्लेस्टोर से हटा लिया गया है| इससे पहले पतंजलि ने बीएसएनएल के साथ सिम लॉन्च की थी| 


इससे पहले कथित तौर पर पतंजलि आयुर्वेद के प्रवक्ता एसके तिजारवाला ने ट्विटर पर  Kimbho ऐप के लॉन्च के बारे में ऐलान किया था। इस संबंध में पतंजलि के प्रवक्ता एसके तिजारावाला ने ट्वीट करते हुए लिखा, "अब भारत बोलेगा। सिम कार्ड लॉन्च करने के बाद बाबा रामदेव ने नई मेसेजिंग ऐप किंभो लॉन्च की है। अब वॉट्सऐप को टक्कर मिलेगी। हमारा अपना स्वदेशी मेसेजिंग प्लेटफॉर्म। इसे सीधा गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं।"