VIDEO: दिग्विजय ने दिलाई अन्न की कसम...एक रहेंगे हम

टीकमगढ़। पूर्व मुख्यमंत्री और मप्र कांग्रेस चुनाव समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह की एकता यात्रा टीकमगढ़ के ओरछा से शुरू हो गई है। यात्रा का आज दूसरा दिन है। यात्रा के पहले दिन दिग्विजय पत्नी अमृता और पूर्व सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी के साथ रामराजा मंदिर दर्शन करने पहुंचे। दिनभर लोगों से मिलने के बाद करीब रात नौ बजे दिग्विजय ने कार्यकर्ताओं  के साथ भोजन किया। भोजन के दौरान सभी कार्यकर्ताओं से आव्हान किया कि वे अन्न हाथ मे लेकर ये संकल्प लें कि वे विधानसभा चुनाव में सभी भेदभाव भुलाकर एक होकर मजबूती के साथ लड़ाई लड़ेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि ये भी संकल्प ले कि वोट देंगें तो सिर्फ हाथ के पंजे को देंगें बाकी सब देखा जाएगा।

उन्होंने आगे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी ने उन्हें हमेशा मान और सम्मान दिया है और पार्टी से उनकी पहचान है। वह पार्टी के लिए कार्य करेंगे तो पार्टी उनके सम्मान की रक्षा करेंगी। इसी बीच उन्होंने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से बिना स्वार्थ पार्टी हित में कार्य करने की बात कही। इस दौरान करीब दो हजार कार्यकर्ता वहां मौजूद रहे। 

बता दे कि आज यात्रा का दुसरा दिन है ,इसलिए दिग्विजय छतरपुर पहुंचे है। यहां वे कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर मुलाकात करेंगे ।इस मुलाकात में नाराज और निराश कांग्रेसियों के गिले शिकवे भुलाकर उन्हें चुनाव में जुट जाने के लिए प्रेरित करेंगे। वही दोपहर का भोजन कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर करेंगे। इसके बाद रात दस बजे पन्ना पहुंचेंगे। पन्ना में रात विश्राम करने के बाद सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक पन्ना जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे और दोपहर का भोजन करेंगे। पन्ना से सीधे खजुराहो पहुंचेंगे और विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

मोदी-शिवराज पर बोला हमला

इस दौरान दिग्विजय ने मोदी-शिवराज पर भी जमकर हमला बोला।  दिग्विजय ने कहा कि जितना झूठ नरेन्द्र मोदी बोलते है उतना ही झूठ मुख्यमंत्री शिवराज बोलते है। ये दोनों केवल अपनी दुकान झूठ पर चलाए हुए है।झूठ से केवल लोगों के बीच भ्रम फैलाए हुए है। हमें इसकों उजागर करना है, इसके लिए हमें एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस घंटी बजाएंगी तो भाजपा कभी जीत नही पाएगी।इसी के साथ कार्यकर्ताओं से उन्होंने पूछा कि इकट्ठा हो जाओगे ना, तो कार्यकर्ताओं की तरफ से भी आवाज आई हां, हम सब इकट्ठा हो जाएंगें।